ताजा पोस्ट सुर्खिया
  • गोरखपुर में बोले योगी, सबका होगा विकास
  • सीएम बनने के बादी पहली बार योगी पहुंचे गोरखपुर
  • सिंगापुर के युवा ब्लॉगर को अमेरिका में राजनीतिक शरण
  • स्वास्थ्य सेवा विधेयक पास न होने से ट्रंप निराश
  • बांदा : अवैध खनन में लिप्त पांच पुलिसवाले निलंबित
  • ट्यूनीशिया ने ब्रिटेन के राजदूत को किया तलब
  • तमिलनाडु को जल देने का सवाल ही नहीं : कर्नाटक
  • सरकारी आदेश के बाद शेरों के सामने पेट भरने के लाले पड़े
  • बंग्लादेश : सड़क हादसे में 10 मरे
  • शेयर बाजार में तेजी
  • पाक ने की अफगान तालिबान के नेताओं के साथ बैठक
  • उत्तर कोरिया परमाणु परीक्षण को फिर तैयार : द कोरिया
  • लीबिया : नाव डूबी, सौ से ज्यादा मरे!
  • लंदन हमला: आईएस ने ली जिम्मेदारी, आठ गिरफ्तार
  • यूपी में मिलने लगी 24 घंटे बिजली

अपन तो कहेगें! ( हरिशंकर व्यास )

image

दुनिया का दिल आज घायल!

दिल मतलब लंदन! यों ब्रितानी प्रधानमंत्री टेरीज़ा मे ने आतंकी हमले पर बोलते हुए ‘हमारी राजधानी के दिल में हमले’ का वाक्य बोला मगर अपना मानना है कि लंदन तो दुनिया का दिल है! तभी आश्चर्य नहीं कि छुरा लिए आतंकी का घाव वैश्विक सुर्खियों में है। आखिर लोकतंत्र के और पढ़ें....

Image

अयोध्याः सर्वमान्य मध्यस्थों का टोटा

अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट का सुझाव कुल मिला कर जाया होता हुआ लगता है। पिछले 24 घंटों में जिस तरह की प्रतिक्रिया और बहस हुई है उसका लबोलुआब है कि सुप्रीम कोर्ट अपना काम करें। फटाफट सुनवाई करके कानून सम्मत फैसला सुनाए। कईयों ने यह आपत्ति की है कि और पढ़ें....

Ram-Mandir

मुस्लिम समझें, बनवाएं राम मंदिर!

सुप्रीम कोर्ट ने आज वह कहा जो भारत के सवा सौ करोड़ लोगों की हकीकत है। ऐसी हकीकत जो कानून और सुप्रीम कोर्ट से परे है। मसला सवा सौ करोड़ लोगों की धड़कन का है, भावनाओं का है। फिर भावना हिंदू की हो या मुसलमान की, उसे रिश्तों की बेहतरी, और पढ़ें....

Asaduddin-Owaisi

ओवैसी, उमर को कौन समझाए?

इन दो चेहरों ने योगी आदित्यनाथ के हवाले कांग्रेस को, सेकुलर पार्टियों को, पीडीपी को कोसा है। एआईएमआईएम के अध्यक्ष-सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने कहां है कि जो हुआ है वह सत्तर साल तक मुसलमानों को ठगने वाले राजनीतिक दलों के लिए सबक है तो उमर अब्दुला ने फरमाया- बधाई महबूबा और पढ़ें....

image

योगी हैं हिंदू भारत का यथार्थ!

हिंदू राजनीति की एक और झिझक खत्म हुई। कभी सोचा नहीं था कि दिल्ली के तख्त पर हिंदू प्रचारक बैठेगा। न ही यह कल्पना थी कि देश के सबसे बड़े प्रांत में हिंदूओं का एक मठ प्रमुख मुख्यमंत्री बनेगा। इसलिए कि नेहरू के आईडिया ऑफ इंडिया, सेकुलर विचार-विमर्श और आधुनिकता और पढ़ें....

Modi-Shah

तब, अब व आगे भी विपक्ष से मोदी!

‘मोदी-शाह के बीस साल’ का सिनेरियो विपक्ष के व्यवहार, सोच और समझ से उपजता है। उत्तरप्रदेश इसका टेस्ट केस है। यूपी और पश्चिम उत्तरप्रदेश में नोटबंदी की मार आम आदमी, गरीब सब पर थी। दिल्ली के बाजार पर निर्भर किसान की सब्जियां औने-पौने दाम पर बिकी, काम-धंधे खत्म हुए बावजूद और पढ़ें....

Modi

हिंदूः सुरक्षा पहले, जात पीछे!

सोचे, यदि पश्चिम उत्तरप्रदेश में जाट नेताओं का गुस्सा फेल हुआ है तो गुजरात में पटेलों का गुस्सा क्या फुस्स नहीं होगा? यह भी ध्यान रहे कि अभी यूपी में जो हुआ है वह 15 साल पहले से गुजरात में हुआ पडा है। नरेंद्र मोदी ने गुजरात में इतना लंबा और पढ़ें....

Modi

मोदी, राजा असाधारण!

यह राय हिंदू मानस में आज आम है और वजह खुद हिंदू का ‘असाधारण’ बनना है। मध्यवर्गीय ही नहीं बल्कि बेहद, सामान्य गरीब हिंदू भी बदला है। उसकी सर्वोपरी चिंता वह फील है जो मुसलमान ने पैदा की है और जिसका फैलाव कई मायनों में वैश्विक है। इसका बीज वाक्य और पढ़ें....

image

यह हिंदू आंधी न कि गरीब आंधी!

पहली बात मैं यूपी में ऐसा नतीजा आता नहीं मान रहा था। हालांकि मैंने यह लिखा था कि भाजपा या तो नंबर एक होगी या नबंर तीन। वह नंबर एक हुई है तो वजह हिंदू आंधी है! 2014 जैसा वह सर्वहिंदू वोट है जो 43 प्रतिशत (अभी यह आंकडा कच्चा) और पढ़ें....

Modi-Shah

जीत तयशुदा, ‘इलेक्शनरिंग’ में!

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह ने उत्तरप्रदेश में ‘इलेक्शनरिंग’ का जब बिजनेस प्लान बनाया, एसेंबलिंग लाइन बनाई तो ख्यालों के खांके की हर उस बात को रेखांकित किया जिससे मीडिया में, जन-जन में चर्चा चले और भाजपा के वोट पकते जाएं। इस पुरानी सोच को याकि अपनी इस थीसिस और पढ़ें....

© 2016 nayaindia digital pvt.ltd.
Maintained by Netleon Technologies Pvt Ltd