ताजा सुर्खियां
  • राजनीतिक फायदे के लिए एससी सूची में जुड़ रही हैं नयी जातियां
  • सीमा पर युद्ध के लिए तैयार रहना चाहिए : सेना प्रमुख
  • दमिश्क सैन्य अभियान में 150 आतंकी ढेर
  • अमेरिका में गोलीबारी, 4 की मौत
  • अमर बोले, उत्तर प्रदेश से हुई दुष्टों के दमन की शुरूआत
  • नाटो की बैठक के लिए नई तिथि का फैसला जल्द: स्टोलटेनबर्ग
  • सीरिया में हवाई हमला, 33 की मौत
  • अन्नाद्रमुक के चुनाव चिह्न पर लगी रोक
  • अमेरिका में आज हो सकता है हेल्थकेयर बिल पास
  • दिल्ली: एमसीडी चुनाव,तारीख बदली
  • ब्रिटिश संसद के बाहर आतंकी हमला
  • गोवा: देर रात की पार्टियों पर रोक
  • लाहौर एयरपोर्ट, आतंकी हमला फेल
  • उप्र: गौ तस्करी पर पूर्ण प्रतिबंध
  • आजाद की यूपी में फिर से चुनाव की चुनौती

हमारी प्राइवेसी नीति

Share

नयाइंडिया. कॉम पर आपके विजिट के दौरान आपसे हम कुछ निजी जानकारी चाह सकते हैं। जानकारी लेने के पीछे हमारी जो नीति है, उसे समझने के लिए प्राइवेसी नीति के इस पेज को कृपया पहले पढ़ लें।

1. उद्देश्य
नयाइंडिया. कॉम पर सर्फ करते वक्त आपसे हम जानना चाह सकते है आपका नाम, पता, ई-मेल आदि। इस जानकारी का उपयोग आपकी दिलचस्पी के क्षेत्रों जैसे समाचार या  ई-मेल एलर्ट, कंपीटिशन, लाईव चैट, मैसेज बोर्ड और नयाइंडिया. कॉम की सदस्यता व प्रचार से जुड़े मैसेज  भेजने के लिए किया जा सकता है।

इसके लिए पहले आपको तय जगह या बॉक्स में आपको अपने बारे में जानकारी देनी होगी। इसके बाद उन सुविधाओं व सेवाओं का लाभ या उपयोग कर सकेगें, जिन्हे आपने पसंद किया है या चुना है। इस कवायद का एकमेव उद्देश्य आपको उपयोगी सामग्री उपलब्ध कराना है।

2. वेबसाइट पर आने वालों की जानकारी
जब आप साइट पर आते हैं और अपनी दिलचस्पी के पेज विजिट करते है  तो पेज और आम तौर पर कुकी आपके कंप्यूटर पर डाउनलोड हो जाती हैं। ज़्यादातर वेबसाइट इस प्रक्रिया का उपयोग करते है। इसके पीछे उद्देश्य यह जानना होता है कि वेबसाइट विजिट करने वाला व्यक्ति क्या वहां पहले भी आया है? इससे अगली बार जब आप वापिस साइट को विजिट करेगें तो कुकी की बदौलत आपका नाम रिकार्डेड होगा।

कुकी के जरिए मिली जानकारी सेवा को बेहतर बनाने में मददगार होती है। पाठकों की पसंद के बारे में अनुमान लगा पाते हैं। जैसे यदि आप वेबसाइट में करिअर वाले पेज ज्यादा विजिट करते है तो हमें कुकी यह जानकारी मिलेगी। आगे हम करिअर को ले कर ज्यादा सामग्री देने की कोशिश करेगें।

3. क्या है कुकी?
कुकी दरअसल एक टेक्स्ट फाइल है। इससे आपका कंप्यूटर हमारे सर्वर को याद रखता है। कुकी अपने आप में किसी यूज़र को नहीं पहचानती, वह सिर्फ़ कंप्यूटर को जानती है। अधिकांश वेबसाइट इसका उपयोग करते हैं ताकि इस बात की जानकारी मिल सके कि कितने लोगों ने उनकी साइट देखी।

कुकी का काम सिर्फ़ यह जानकारी देना है कि आप किन पन्नों पर जा रहे हैं और वहां कितनी देर ठहरते हैं। कंप्यूटर में यह सुविधा होती है कि आप उसे सेट कर दें तो वह सारे कुकीज़ को याद रखे या फिर एक भी कुकी को दर्ज़ नहीं होने दे। यदि आप यह विकल्प चुनते हैं कि कुकी दर्ज़ ही नहीं हो, तब आपको कई व्यक्तिगत सुविधाए नहीं मिल पाएगी। ध्यान रहे कि यदि आपने अपने कंप्यूटर पर कुकी को नकारने की सेटिंग नहीं की हुई है, तब भी आप एक अनजान पाठक की तरह ही वेबसाइट विजिट करेगें, बशर्ते कि आपका नाम रजिस्टर्ड पाठक के रुप में दर्ज़ नहीं हो।

4. आपकी व्यक्तिगत जानकारी का उपयोग
जब आप किसी वेबसाइट की सदस्यता या किसी कंपीटिशिन में भाग लेने के लिए हमें अपने बारे में जानकारी देते हैं तो इसके उपयोग को लेकर आपके प्रति हमारी क़ानूनी ज़िम्मेदारी भी होती है। मसलन यह कि हम सूचनाएं ईमानदारी से इकठ्ठा करें। मतलब जानकारी देने से पहले हम आपको बता दें कि इसका उपयोग हम कहां और किस तरह करने वाले हैं। इसी तरह यदि आपके द्वारा दी गई जानकारी को हम किसी और को देने वाले हैं तो इस बारें में हम आपको बता दें। आम तौर पर आप जो जानकारी हमें देते हैं, उसका उपयोग हम स्वंय और हमारे सर्विस प्रोवाइडर ही करते हैं। आपके द्वारा दी गई जानकारी को बाहर किसी को भी हम तब तक नहीं देते, जब तक इसके लिए हमने आपकी सहमति न ले ली हो या उसे साइट पर बता दिया न हो और उसे ज़ाहिर करने की कोई क़ानूनी बाध्यता नहीं हो।

यदि कोई व्यक्ति नयाइंडिया.कॉम को कोई आपत्तिजनक या अनुचित सामग्री भेजता है या वेबसाइट को नुक़सान पहुँचाने वाला व्यवहार करता है और इस वेबसाइट को  यूजर की इस तरह की कोशिशें गंभीर लगती हैं तो इसे रोकने के लिए वेबसाइट उपलब्ध जानकारी का उपयोग कर सकती है। इसमें यूजर के व्यवहार के बारे में नियोक्ता या स्कूल या फिर ई-मेल प्रोवाइडर को सूचित करना भी शामिल हो सकता है।

यूजर से मिली सूचना को हम अपने सिस्टम में तब तक रखते हैं जब तक आपने हमारी सेवाओं के लिए अनुरोध किया हुआ है या फिर तब तक जब तक आप वेबसाइट  के सदस्य रहना चाहते हैं। वैसे सुरक्षा के खातिर वेबसाइट किसी भी व्यक्ति का नाम, उसके द्वारा भेजा गया मैसेज और मैसेज की तारीख़ और समय आदि की जानकारी छह महीने तक सुरक्षित रख सकती है। जब किसी यूजर ने नयाइंडिया.कॉम के सदस्य के रुप में अपने को रजिस्टर्ड नहीं किया हो और दूसरे कारणों से नयाइंडिया.कॉम की साइट पर आकर अपने बारे में जानकारी दी हो, जैसे किसी कंपीटिशन में भाग लेते हुए या सेवा का उपयोग करते हुए तो फिर वह जानकारी तभी तक रखी जाएगी, जब तक इसे रखा जाना ज़रुरी हो।

यदि वेब साइट पर यह लिखा हुआ है कि आपके द्वारा दी गई सूचना का उपयोग सर्विस एडमिनिस्ट्रेशन की दृष्टि से किया जा सकता है तो इसका मतलब है कि  नयाइंडिया.कॉम आपसे उन सेवाओं से जुड़े अनेक कारणों से संपर्क कर सकता है, जिनका लाभ आप उठा रहे हों। मिसाल के नाते हम आपको यह सूचना दे सकते हैं कि आपके पासवर्ड की अवधि ख़त्म हो रही है और आपको उसे बदल लेना चाहिए या फिर यह कि कोई सेवा मेंटिनेंस की वजह से लंबित है।

5. सोलह साल से कम उम्र के उपयोगकर्ता
यदि आपकी उम्र 16 वर्ष या उससे कम है तो नयाइंडिया.कॉम को अपने बारे में कोई भी जानकारी भेजने से पहले अपने माता पिता या पालक की सहमति ज़रुर भिजवाएं।

6. कुकी को ढूढ़ने और उस पर नियंत्रण का उपाय

आप यदि  Netscape 6.0  या उसके बाद का ब्राउजर उपयोग कर रहे हैं तो अपने टास्क बार पर जा कर पहले
1. Edit पर क्लिक करें।
2. फिर Preferences
3. और Advanced
4. और आखिर में Cookie पर क्लिक करें।

आप यदि  Internet Explorer 6.0 या उसके बाद के ब्राउजर का उपयोग कर रहे हैं तो आप
1. पहले Tools चुनें।
2. Internet Options का विकल्प चुने।
3. Privacy Tab पर क्लिक करें।
4. Custom Level पर क्लिक करें।
5. Advanced Options पर जाएं।
6. ‘Override automatic cookie handling’ बॉक्स पर जाए और ‘Accept, Block or Prompt’ का विकल्प चुनें।

आप यदि  Internet Explorer 5.0 या 5.5 का उपयोग कर रहे हैं तो आप
1. पहले Tools चुनें।
2. Internet Options पर जाए।
3. Security Tab पर क्लिक करें।
4. Custom Level पर क्लिक करें।
5. नीचे छठे विकल्प पर जाएं और देखें कि IE5 से किस तरह कुकी को नियंत्रित किया जाता है. अब ‘Accept, Block or Prompt’ को क्लिक करें।

आप यदि  Netscape Communicator 4.0 का उपयोग कर रहे हैं तो
1. Edit दबाएं।
2. Preferences पर जाएं।
3. Advanced पर क्लिक करें।
4. जिस बॉक्स पर Cookie लिखा हो उस पर क्लिक करके अपनी पसंद का विकल्प चुनें।

7.यह जानने के रिए कि जिन वेब साइटों पर आप जाते हैं वे कुकी का उपयोग करते हैं या नहीं? उसके लिए यदि
आप Netscape 6.0 का उपयोग कर रहे हैं तो

1. Edit पर क्लिक करें।
2. फिर Preferences पर जाएं।
3. Advanced पर क्लिक करें।
4. Cookie पर क्लिक करें।
5. View Cookies के विकल्प पर क्लिक करें।

आप यदि  Internet Explorer 5.0 या 6.0 का उपयोग कर रहे हैं तो पहले
1. Tools चुनें।
2. Internet Options पर जाएं।
3. General Tab पर क्लिक करें।
4. Settings को क्लिक करें।
5. View Files पर क्लिक करें।

आप यदि  Netscape Communicator 4.0 का उपयोग कर रहे हैं तो

नेटस्केप आपकी सारी कुकी को आपके हार्ड ड्राइव में एक साथ रखता है। अगर आपको यह फ़ाइल ढूंढ़नी है तो इसे विंडोज़ मशीन पर cookie.txt के नाम से ढ़ूंढ़ा जा सकता है।

8. आपके कुकी कोड की तलाश
इसके लिए कुकी पर क्लिक करें। आपको एक टेक्स्ट स्ट्रीप दिखाई देगी जिसमें एक नंबर होगा। यह नंबर आपका आइडेंटीटीफ़िकेशन कार्ड है, जिसे सिर्फ़ वही सर्वर देख सकता है, जिसने उसे जारी किया है।
……………
…….

रजिस्टर्ड यूजर बनने के लिए क्यों साइन करें?
सदस्यता निशुल्क और आसान है। यदि आप सदस्य बनते हैं तो :
•    अपनी टिप्पणियां सीधे आपकी राय की चुनी हुई बहसों में शामिल करा सकते हैं
कुछ बहसों पर प्रतिक्रियाएं आती हैं और रजिस्टर्ड यूज़रों को सीधे उनमें हिस्सा लेने की अनुमति है।
•    अन्य यूज़र्स की टिप्पणियों की सिफ़ारिश कर सकते हैं
हमें और अन्य यूज़र्स को पढ़ने लायक़, बेहतरीन टिप्पणियों के बारे में बता कर बहस के संपादन में सहायता दे सकते हैं।
सदस्य बनने के लिए बस आपको एक सही ईमेल पते की ज़रूरत है

© 2016 nayaindia digital pvt.ltd.
Maintained by Netleon Technologies Pvt Ltd