बालू खनन पर कोल्लम जिला प्रशासन से रिपोर्ट तलब

नई दिल्ली। राष्ट्रीय हरित अधिकरण (एनजीटी) ने बालू खनन पर कोल्लम जिला प्रशासन से बुधवार को एक रिपोर्ट मांगी। केरल के तटीय गांव अलप्पड़ में रेत खनन गतिविधि के पर्यावरणीय प्रभाव पर 17 वर्षीय एक लड़की के एक वीडियो के वायरल होने के बारे में एक समाचार रिपोर्ट का संज्ञान लेने के बाद अधिकरण ने कोल्लम जिला प्रशासन से रिपोर्ट मांगी है।

एनजीटी के अध्यक्ष न्यायमूर्ति आदर्श कुमार गोयल की अध्यक्षता वाली एक पीठ ने कोल्लम जिला मजिस्ट्रेट को एक महीने के भीतर रिपोर्ट सौंपने के लिए कहा है। इस मामले की अगली सुनवाई 29 मार्च को होगी। अधिकरण ने यह निर्देश इंडियन एक्सप्रेस की एक खबर पर स्वत:संज्ञान लेने के बाद दिया है। इस खबर में 12वीं कक्षा की एक छात्रा काव्या एस का उल्लेख किया गया है जिसने अपने गांव अलप्पड़ में दशकों से हो रही बालू खनन गतिविधि के पर्यावरणीय प्रभाव के बारे में एक वीडियो बनाया था।

71 Views

बताएं अपनी राय!

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।