कारोबार

बेजोस फिर बने दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति

नई दिल्ली। टेस्ला के शेयरों में गिरावट के बाद एलन मस्क के सिर से दुनिया का सबसे अमीर व्यक्ति का होने का ताज छीन गिया है और एक बार फिर एमेजॉन के संस्थापक जेफ बेजोस दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति बन गए हैं। टेस्ला के शेयरों में कल 2.4 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई और मस्क को 4.6 अरब डॉलर का नुकसान हुआ, जिससे वह दुनिया के 500 सबसे अमीर लोगों की रैंकिंग में ब्लूमबर्ग बिलियनेयर्स इंडेक्स पर दूसरे स्थान पर खिसक गए।

बेजोस 191.2 अरब डॉलर की संपत्ति के साथ फिर से दुनिया के सबसे अमीर आदमी बन गए। पिछले महीने मस्क दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति थे, क्योंकि टेस्ला के शेयर की कीमत बढ़ने के बाद उनकी संपत्ति 185 अरब डॉलर के पार पहुंच गई थी। उन्होंने बेजोस की जगह ली थी, जो 2017 से सबसे अमीर व्यक्ति बने थे।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ताजा पोस्ट | देश

Two Child Norm in Assam : दो बच्चों से ज्यादा हुए तो सरकारी फायदों से होना पड़ सकता है वंचित!

Two Child Norm in Assam

नई दिल्ली। Two Child Norm in Assam : ‘बच्चे दो ही अच्छे’ नारे को सही ठहराते हुए असम सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। असम के मुख्यमंत्री (Assam Chief Minister) हिमंत बिस्वा सरमा (Himanta Biswa Sarma) ने कहा है कि, राज्य में दो से अधिक बच्चों के माता-पिता को सरकारी योजनाओं के फायदे से वंचित किया जा सकता है। इसलिए जनाब, अब बच्चे एक या दो ही कीजिए, नहीं तो कई फायदे आपके हाथ से निकल सकते हैं। हालांकि, प्रस्तावित जनसंख्या नियंत्रण नीति असम में सभी योजनाओं पर तुरंत लागू नहीं होगी।

ये भी पढ़ें :- Weekly rashifal astrology : कैसा रहेगा सप्ताह, क्या कहते हैं आपके सितारे और ग्रह—नक्षत्र

कई योजनाओं पर लागू नहीं हो सकती ये नीति
असम के सीएम सरमा ने कहा कि, केन्द्र सरकार की कुछ ऐसी योजनाएं ऐसी हैं जिनके लिए हम दो बच्चे की नीति लागू नहीं कर सकते हैं। लेकिन, राज्य सरकार की कुछ योजनाओं में दो बच्चों के मानदंड को रखा जा सकता है।

ये भी पढ़ें :- Monsoon सक्रिय, आज कई राज्यों में मूसलाधार बारिश का अलर्ट, गंगा खतरे के निशान से ऊपर, हर की पौड़ी सील

पंचायत चुनाव लड़ने के लिए दो बच्चों का मानदंड
बता दें कि वर्तमान में असम पंचायत अधिनियम, 1994 में 2018 में एक संशोधन के अनुसार पंचायत चुनाव लड़ने के लिए न्यूनतम शैक्षिक योग्यता और कार्यात्मक स्वच्छता शौचालय की आवश्यकताओं के साथ ही दो बच्चों का मानदंड भी निर्धारित है।

ये भी पढ़ें :- Petrol Diesel के फिर बढ़े दाम, महंगाई की मार से बिगड़ा लोगों के घर का बजट

ये भी पढ़ें :- Rajasthan : फिर बढ़कर 193 हुए नए केस, Unlock में न करें राज्य सरकार ढिलाई और जनता लापरवाही

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *