nayaindia शेयर बाजार पर जारी रहेगा कोरोना का प्रभाव - Naya India
kishori-yojna
कारोबार| नया इंडिया|

शेयर बाजार पर जारी रहेगा कोरोना का प्रभाव

मुंबई। बीते सप्ताह घरेलू शेयर बाजारों में नौ फीसदी से ज्यादा की जबरदस्त गिरावट के बाद आने वाले सप्ताह में भी निवेशकों की नजर कोरोना वायरस ‘कोविड-19’ के संक्रमण की स्थिति पर रहेगी।

संक्रमण फैलने की रफ्तार बढ़ती है तो शेयर बाजारों में गिरावट का रुख आगे भी जारी रह सकता है। बाजार विश्लेषकों का कहना है कि कोविड-19 से जिस प्रकार आर्थिक गतिविधियाँ प्रभावित हो रही हैं उससे अर्थव्यवस्था को गहरा झटका लगा है। इससे बाजार में निवेश धारणा कमजोर हुई है।

घरेलू खपत के साथ निर्यात पर भी निश्चित रूप से इसका असर दिखेगा। दुनिया भर में पर्यटन और परिवहन क्षेत्र बुरी तरह प्रभावित हैं।गत सप्ताह इसी के परिणाम स्वरूप विदेशी बाजारों के साथ ही भारतीय शेयर बाजारों में भी सुनामी आ गयी। बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 3,473.14 अंक यानी 9.24 प्रतिशत टूटकर 34,103.48 अंक पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 1,034.25 अंक यानी 9.41 फीसदी की गिरावट के साथ 9,955.20 अंक पर रहा। मझौली तथा छोटी कंपनियों पर और अधिक दबाव रहा। बीएसई का मिडकैप 11.17 फीसदी और स्मॉलकैप 11.77 फीसदी टूट गया।

सप्ताह के पहले कारोबारी दिन सेंसेक्स 1,941.67 अंक और निफ्टी 538 अंक लुढ़क गया जो उस दिन तक की सबसे बड़ी गिरावट थी। मंगलवार को होली के अवकाश के बुधवार को जब बाजार खुला तो सेंसेक्स 62.45 अंक की बढ़त बनाने में कामयाब रहा जबकि निफ्टी दिन भर के उतार-चढ़ाव के बाद आखिरकार 2.55 अंक की मामूली गिरावट में बंद हुआ।

बाजार में सोमवार को रही गिरावट का रिकॉर्ड गुरुवार को ही टूट गया जब सेंसेक्स 2,919.26 अंक यानी 8.18 प्रतिशत का गोता लगाकर दो साल के निचले स्तर 32,778.14 अंक पर और निफ्टी 868.25 अंक यानी 8.30 प्रतिशत लुढ़ककर पौने तीन साल के निचले स्तर 9,590.15 अंक पर बंद हुआ।

शुक्रवार को बाजार खुलते ही हाहाकार मच गया। कारोबार शुरू होने के सात मिनट के भीतर ही सेंसेक्स और निफ्टी के 10 फीसदी से ज्यादा की गिरावट में रहने से 45 मिनट के लिए कारोबार रोक देना पड़ा। बारह साल में यह पहला मौका था जब बाजार में निचला सर्किट लगा था। हालाँकि दुबारा कारोबार शुरू होने पर जबरदस्त वापसी करते हुये दोनों प्रमुख सूचकांक चार फीसदी से अधिक की बढ़त में बंद हुये। दिन भर के दौरान सेंसेक्स में करीब 5,400 अंक और निफ्टी में 1,600 अंक से अधिक का ऐतिहासिक उतार-चढ़ाव रहा।

कारोबार की समाप्ति पर सेंसेक्स 1,325.34 अंक और निफ्टी 433.50 अंक की तेजी के साथ बंद हुआ। सप्ताह के दौरान बाजार में उतार-चढ़ाव का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि सेंसेक्स का उच्चतम स्तर 36,950.20 अंक और न्यूनतम स्तर 29,388.97 अंक दर्ज किया गया। निफ्टी का उच्चतम स्तर 10,751.55 अंक और निचला स्तर 8,555.15 रहा।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

seven + 3 =

kishori-yojna
kishori-yojna
ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
प्रतिबंध तेरे रूप अनेक!
प्रतिबंध तेरे रूप अनेक!