nayaindia फेसबुक ने स्मार्टफोन पर सुरक्षा कुंजी का विस्तार किया - Naya India
कारोबार| नया इंडिया|

फेसबुक ने स्मार्टफोन पर सुरक्षा कुंजी का विस्तार किया

नई दिल्ली। फेसबुक ने अब मोबाइल डिवाइस पर भी दो-कारक प्रमाणीकरण (2एफए) के लिए भौतिक सुरक्षा कुंजी (फिजिकल सिक्योरिटी की) के सपोर्ट का विस्तार किया है। इससे पहले यह फीचर केवल डेस्कटॉप वर्जन पर ही उपलब्ध था।

उपयोगकर्ता शुक्रवार (19 मार्च) से ही दो-कारक प्रमाणीकरण यानी टू-फैक्टर ऑथेंटिकेशन स्थापित कर सकते हैं और सुरक्षा कुंजी का उपयोग करके भारत सहित दुनिया भर में आईओएस और एंड्रॉएड मोबाइल उपकरणों पर फेसबुक में लॉग इन कर सकते हैं।

फेसबुक ने 2017 से डेस्कटॉप वर्जन के लिए सुरक्षा कुंजी सपोर्ट की अनुमति दी थी। कंपनी ने एक बयान में कहा, “फेसबुक पर लोग 2017 से द्वेषपूर्ण हैकर्स से अपनी जानकारी को बेहतर तरीके से बचाने के लिए डेस्कटॉप पर अपने अकांट्स में लॉग इन करने के लिए भौतिक सुरक्षा कुंजी का उपयोग करने में सक्षम हैं।

टू-फैक्टर ऑथेंटिकेशन एक सिक्योरिटी फीचर है, जो आपके फेसबुक अकाउंट को अज्ञात डिवाइस से लॉग इन करने के दौरान हर बार आपके जाने-पहचाने (आपके पासवर्ड) और आपके पास मौजूद किसी चीज की आवश्यकता को सुरक्षित रखने में मदद करता है।

आमतौर पर, आपके मोबाइल फोन या ऑथेंटिकेटर ऐप पर एक एसएमएस कोड भेजा जाता है। कंपनी ने कहा कि इससे अब एक बेड एक्टर (हैकिंग में महारत रखने वाला) के लिए दोनों फैक्टर्स को प्राप्त करना बहुत कठिन है, जो आपके पासवर्ड को फिशिंग या आपकी जानकारी को जोखिम में डालने के लिए अन्य कई दुर्भावनापूर्ण प्रयास करते हैं। कंपनी ने कहा कि इस तरह के प्रयासों से यह यूजर्स के अकाउंट और उनकी संवेदनशील जानकारी को लीक होने से बचाता है।

इस हफ्ते की शुरूआत में, ट्विटर ने लोगों को सुरक्षा कुंजी का उपयोग केवल प्रमाणीकरण विधि के रूप में करने की घोषणा की थी। कंपनी ने कहा था कि माइक्रो-ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म सिर्फ एक के बजाय प्रति अकाउंट में कई सुरक्षा कुंजी की अनुमति देगा।

वर्तमान में, ट्विटर उपयोगकर्ता साइन इन करने के लिए एक सुरक्षा कुंजी का उपयोग कर सकते हैं और दूसरे 2एफए (दो-कारक प्रमाणीकरण) विधि के रूप में एक प्रामाणिक ऐप या एसएमएस कोड की आवश्यकता होती है।

 

Leave a comment

Your email address will not be published.

eighteen + 15 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
भाजपा को भी सुलझाना है कर्नाटक विवाद
भाजपा को भी सुलझाना है कर्नाटक विवाद