• डाउनलोड ऐप
Monday, April 12, 2021
No menu items!
spot_img

फेसबुक ने ‘चेकआउट ऑन शॉप्स’ पर छोटे व्यवसायों के लिए फीस माफ की

Must Read

नई दिल्ली। कोविड-19 महामारी से हुए नुकसान से उबरने में छोटे व्यवसायियों की मदद करने के प्रयास में फेसबुक ने अपने ‘चेकआउट ऑन शॉप्स’ के फीचर के साथ जून, 2021 तक लेनदेन करने वाले छोटे व्यवसायों के लिए फीस माफ करने की घोषणा की है। फेसबुक ने यह पहले ही कह दिया गया है कि कम से कम अगस्त तक छोटे व्यवसायों से भुगतान किए जाने वाले ऑनलाइन कार्यक्रमों के लिए उनकी तरफ से कोई फीस नहीं लिया जाएगा।

कंपनी ने एक बयान में कहा है, यह एक मुश्किल वक्त है क्योंकि छोटे व्यवसायी अपनी जिंदगी के एक कठिन दौर में से होकर गुजर रहे हैं। 47 प्रतिशत छोटे व्यवसायियों का कहना है कि अगले छह महीने तक टिके रह पाना उनके लिए मुमकिन नहीं होगा। कुछ का कहना है कि अगर स्थिति यही रही तो यह बता पाना मुश्किल होगा कि कितने लंबे समय तक वह खुद को बरकरार रख पाएंगे।

इनमें से कई ऐसे हैं, जिनके लिए डिजिटल मार्केटिंग एक लाइफलाइन की तरह है। 17 देशों के दो-तिहाई छोटे व्यवसायियों ने इस बात का जिक्र किया है कि वे विपणन के लिए डिजिटल टूल्स के उपयोग को बढ़ा देंगे और 61 फीसदियों का कहना रहा है कि महामारी के बाद उनके द्वारा इन टूल्स के इस्तेमाल में वृद्धि होने की संभावना जताई जा रही है।

कंपनी ने बताया, हम ‘गुड आईडिया डिजर्व टू बी फाउंड’ को पेश कर रहे हैं, जो यह दिखाने और समझाने की दिशा में एक पहल है कि किस तरह से फेसबुक और इंस्टाग्राम पर छोटे व्यवसायों की दिशा में लोगों के ध्यान को आकर्षित करने के लिए व्यक्तिगत विज्ञापन एक महत्वपूर्ण तरीका है और किस तरह से इन विज्ञापनों की मदद से छोटे व्यवसायों के विकास में मदद मिलती है, जिससे आजीविका में सुधार आता है।

फेसबुक ने ‘एड मैनेजर’ को आसान बनाने का भी ऐलान किया है, ताकि विज्ञापनों की दिशा में छोटे व्यवसायी अपने कदम आसानी से बढ़ा सके और विज्ञापन के क्षेत्र में अपने निवेश की कीमत को बढ़ाने के लिए व्यक्तिगत तौर पर अपने मार्केटिंग प्लानंस का उपयोग कर सके।

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest News

राफेल पर फिर होगी सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई

फ्रांस से खरीदे गए लड़ाकू विमान राफेल की खरीद के विवाद का मुद्दा एक बार फिर सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है।

More Articles Like This