nayaindia छोटे शहरों से हो रही अधिक ऑनलाइन खरीदारी - Naya India
कारोबार| नया इंडिया|

छोटे शहरों से हो रही अधिक ऑनलाइन खरीदारी

नई दिल्ली। मौजूदा त्योहारी सीजन में ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म के कारोबार में पिछले वर्ष की तुलना में दो गुना बढोतरी होने की उम्मीद जतायी गयी है और उनके कारोबार में हो रही इस वृद्धि में मझौले तथा छोटे शहर बड़ी भूमिका निभा रहे हैं। ई-कॉमर्स लॉजिस्टिक प्लेटफॉर्म शिपरॉकेट ने त्योहारी सीजन 2019 पर अपनी रिपोर्ट जारी की है जिसमें कहा गया है कि 2018 की तुलना में 2019 के इस सीज़न के दौरान मझौले तथा छोटे शहरों से अधिक ऑर्डर आ रहे हैं।

मझौले शहरों के लिए शिपमेंट में पहले की तुलना 10 फीसदी की वृद्धि हुयी है और त्योहारी सीजन में अधिक बढ़ोतरी की उम्मीद है डीलर टू कस्टमर (डी 2सी) कारोबारियों के कारोबार में त्योहारी सीजन में शत-प्रतिशत की बढोतरी होने का अनुमान है। सौंदर्य तथा स्वास्थ्य उत्पाद और कपड़ों के बाजार में सबसे ज्यादा वृद्धि का अनुमान जताया गया है।

इन श्रेणियों में शत-प्रतिशत से अधिक वृद्धि की उम्मीद के साथ ई-मार्केटप्लेस के विक्रेताओं की बिक्री औसतन 30 से 50 प्रतिशत तक बढ़ने की संभावना है। रिपोर्ट में कहा गया है कि अलग-अलग शहरों में ऑनलाइन खरीद को गति देने के कारक भी अलग-अलग हैं। स्वास्थ्य और सौंदर्य से जुड़े उत्पाद जहाँ बड़े शहरों में अधिक बिक रहे हैं, वहीं मझौले और छोटे शहरों में घरेलू उपकरणों की बिक्री में अपेक्षा से अधिक की वृद्धि देखी जा रही है।

शिपरॉकेट के सह संस्थापक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी साहिल गोयल ने कहा कि ई-कॉमर्स बाजार को अब मझौले और छोटे शहरों से ग्राहक मिलने लगे हैं। इन शहरों के लोग अब डिजिटल खरीदारी में शामिल हो रहे हैं। इससे एक नया डिजिटल बाजार खुल रहा है जिसमें खरीदार और विक्रेता आसानी से एक-दूसरे के साथ लेनदेन कर रहे हैं। पिछले त्योहारी सीजन के दौरान शिपरॉकेट के मासिक ऑर्डर में 75 प्रतिशत की वृद्धि देखी गयी थी जबकि इस साल दोगुना वृद्धि देखी जा रही है।

Leave a comment

Your email address will not be published.

5 × four =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
Rajiv Gandhi Case : SC ने पेरारिवलन की रिहाई का दिया आदेश,30 साल बाद आएंगे जेल से बाहर…
Rajiv Gandhi Case : SC ने पेरारिवलन की रिहाई का दिया आदेश,30 साल बाद आएंगे जेल से बाहर…