डिजिटल भुगतान अपनाने में कर्नाटक अव्वल

नई दिल्ली। सरकार के डिजिटल लेनदेन को बढ़ावा के साथ ही यूपीआई , भीम ऐप और फिनटेक कंपनियों के सरल डिजिटल भुगतान समाधान उपलब्ध कराने से इनके माध्यम से लेनदेन में तेजी आयी बल्कि इसको अपनाने के मामले में देश में कर्नाटक अव्वल रहा है जबकि महाराष्ट्र दूसरे और दिल्ली तीसरे पायदान पर है।

वित्तीय कंपनी रेजरपे ने मंगलवार को यहां ‘द एरा ऑफ राइजिंग फिनटेक’ रिपोर्ट का चैथा संस्करण जारी किया जिसमें यह खुलासा किया गया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि डिजिटल भुगतान अपनाने के मामले में कर्नाटक अव्वल राज्य रहा वहीं डिजिटलाइज्ड शहरों में बेंगलुरु पहले और दिल्ली दूसरे स्थान पर है। इस मामले में हैदराबाद तीसरे स्थान पर रहा है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि दिल्ली एनसीआर में डिजिटल लेनदेन वर्ष 2018 की तुलना में 2019 में 235 फीसदी बढ़ा है। दिल्ली एनसीआर में यूपीआई लेनदेन 2018 और 2019 के बीच 442 फीसदी बढ़ा। दिल्ली एनसीआर में वित्तीय सेवा क्षेत्र में डिजिटल भुगतान की हिस्सेदारी सबसे अधिक 12 फीसदी से अधिक रही। दिल्ली एनसीआर के लोग खाद्य और पेय पदार्थों के साथ ही यात्रा के लिए डिजिटल भुगतान का उपयोग तेजी करने लगे हैं।

इसे भी पढ़ें :- भारती एक्सा जनरल की सैंडबॉक्स परियोजना को इरडा की मंजूरी

रेजरपे के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एवं सह संस्थापक हर्षिल माथुर ने कहा कि पिछले साल दिल्ली में फिनटेक क्षेत्र के लिए काफी जोर रहा। नए डिजिटल भुगतान मोड को अपनाने के साथ, डिजिटल मुद्रा को मुख्यधारा में लाया गया है। और पिछले छह महीनों में क्षेत्र में डिजिटल भुगतान के व्यवसायों और उपभोक्ता वरीयताओं के उपभोग पैटर्न में जबरदस्त बदलाव देखा गया।

उन्होंने कहा कि भारत में उपभोक्ताओं के वित्तीय समावेशन पर बहुत अधिक ध्यान केंद्रित किया गया है। दिल्ली एक ऐसा क्षेत्र है जो व्यवसायों के लिए वित्तीय समावेशन के समाधान की दिशा में सक्रिय रूप से शामिल है। फिनटेक स्पेस ने तेजी ने दिल्ली में 350 से अधिक स्टार्टअप उभरे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares