वैश्विक दबाव में लुढ़का शेयर बाजार

मुंबई। एशियाई बाजारों से मिले नकारात्मक संकेतों के दबाव में आज घरेलू शेयर बाजारों में बिकवाली का जोर रहा और बीएसई 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 209.75 अंक यानी 0.60 प्रतिशत फिसलकर 34,961.52 अंक पर तथा नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 70.60 अंक अर्थात् 0.68 फीसदी की गिरावट के साथ 10,312.40 अंक पर बंद हुआ।

कोरोना वायरस की चिंता तथा अन्य स्थानीय कारणों से अधिकतर एशियाई बाजार आज लाल निशान में रहे। इस कारण घरेलू शेयर बाजारों पर शुरू से ही दबाव रहा। इंफोसिस, रिलायंस इंडस्ट्रीज, एक्सिस बैंक, एचडीएफसी और आईसीआईसीआई बैंक जैसी दिग्गज कंपनियों में बिकवाली के दबाव में पूरे दिन बाजार गिरावट में रहा। यूरोपीय शेयर बाजारों के हरे निशान में खुलने से हालांकि बीएसई और एनएसई में गिरावट कुछ कम जरूर हुई, लेकिन बाजार कभी हरे निशान में नहीं आ सका।

एफएमसीजी को छोड़कर बीएसई के सभी समूह गिरावट में रहे। पूंजीगत वस्तु, रियलिटी और धातु समूहों के सूचकांक दो प्रतिशत से अधिक टूटे।

मझौली और छोटी कंपनियों में भी निवेशकों ने बिकवाली की। बीएसई का मिडकैप 1.39 प्रतिशत लुढ़ककर 13,073.72 अंक पर स्मॉलकैप 1.23 प्रतिशत की मजबूती के साथ 12,474.44 अंक पर आ गया।

सेंसेक्स की कंपनियों में एक्सिस बैंक का शेयर पौने पांच प्रतिशत टूटा। टेक महिंद्रा में साढ़े तीन फीसदी, भारतीय स्टेट बैंक में पौने तीन फीसदी और एलएंडटी तथा इंडसइंड बैंक में ढाई फीसदी की गिरावट रही। एचडीएफसी बैंक का शेयर करीब दो प्रतिशत चढ़ा।

विदेशों में अधिकतर प्रमुख एशियाई बाजार लाल निशान में रहे। जापान का निक्की 2.30 प्रतिशत, दक्षिण कोरिया का कोस्पी 1.93 प्रतिशत, हांगकांग का हैंगसेंग 1.01 प्रतिशत और चीन का शंघाई कंपोजिट 0.61 प्रतिशत की गिरावट में बंद हुआ। वहीं, यूरोप में शुरुआती कारोबार में जर्मनी का डैक्स 0.39 प्रतिशत और ब्रिटेन का एफटीएसई 0.35 प्रतिशत मजबूत हुआ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares