आरबीआई ने एनबीएफसी, एमएफ के साथ तरलता, फंड प्रवाह की समीक्षा की -
कारोबार| नया इंडिया| %%title%% %%page%% %%sep%%

आरबीआई ने एनबीएफसी, एमएफ के साथ तरलता, फंड प्रवाह की समीक्षा की

मुंबई। आरबीआई ने आज एनबीएफसी सेक्टर में तरलता और क्रेडिट प्रवाह की स्थिति की समीक्षा की और कोविड-19 प्रकोप के आर्थिक प्रभाव से निपटने के लिए पूर्व में घोषित राहत उपायों के क्रियान्वयन के संदर्भ में एमएफ की स्थिति का आकलन किया।

आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने एनबीएफसी और एमएफ, दोनों के प्रतिनिधियों के साथ दो अलग-अलग सत्रों में वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए बैठकें की।

आरबीआई ने एक बयान में कहा, गवर्नर ने क्रेडिट आपूर्ति में एनबीएफसी की महत्वपूर्ण भूमिका को, और वित्तीय इंटरमीडिएशन में मुचुअल फंड्स के महत्व को स्वीकार किया।

बैठक के दौरान आरबीआई ने एमएसएमई, कारोबारियों और अर्धशहरी, ग्रामीण और शहरी इलाकों में उपभोक्ताओं को कामकाजी पूंजी सहित क्रेडिट आपूर्ति की लॉकडाउन बाद की रणनीति पर एनबीएफसी और एमएफआई के साथ चर्चा की।

आरबीआई द्वारा घोषित ऋण के पुनर्भुतान पर तीन महीने की रोक के क्रियान्वयन, और शिकायत निवारण तंत्र को मजबूत करने पर भी बैठक में चर्चा हुई। आरबीआई गवर्नर ने एनबीएफसी औैर एमएफ के साथ उनकी तरलता की स्थिति, खासतौर से इन सेक्टरों के लिए विभिन्न योजनाओं की घोषणा के बाद उनकी तरलता की क्या स्थिति है, उसकी भी जानकारी ली।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *