nayaindia एसबीआई ने ब्याज दरों में कमी की - Naya India
कारोबार| नया इंडिया|

एसबीआई ने ब्याज दरों में कमी की

मुंबई। देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक ने रिजर्व बैंक के रेपो रेट से जुड़े कर्ज पर ब्याज दरों में चौथाई फीसदी कटौती का ऐलान किया है। इससे आवास और वाहन के कर्ज की किश्तों में मामूली कमी आ सकती है। एसबीआई ने कर्ज के लिए बाहरी मानकों पर आधारित अपनी ब्याज दर यानी ईबीआर को 0.25 फीसदी कम कर 7.80 फीसदी करने की घोषणा की है। इससे पहले यह दर 8.05 फीसदी थी। नई दर पहली जनवरी 2020 से प्रभावी होगी।

बैंक के इस फैसले से उसके आवास ऋण पर ब्याज कम हो जाएगा और उससे ईबीआर के आधार पर कर्ज लेने वाले सूक्ष्म, लघु और मझोले उद्यमों पर भी ब्याज के बोझ में प्रति सैकड़ा 25 पैसे की कमी हो जाएगी। बैंक नए आवास ऋण सालाना 7.90 फीसदी की दर से देगा। अब तक यह दर 8.15 फीसदी थी। भारतीय रिजर्व बैंक के निर्देशों के अनुसार, भारतीय स्टेट बैंक ने पहली अक्टूबर 2019 से ईबीआर आधारित ब्याज की व्यवस्था लागू की है।

बैंक ने इसके तहत एक अक्टूबर 2016 से सूक्षम, लघु और मझोले उद्यमों, आवास खरीदारों और खुदरा ग्राहकों के लिए परिवर्तनशील दर पर लिए गए कर्जों का ब्याज रिजर्व बैंक की रेपो दर में घट बढ़ के आधार पर समायोजित करने का फैसला लागू किया है। इसके तहत बैंक तीन महीने में एक बार अपने कर्ज की ब्याज दरों को समायोजित कर सकते हैं। भारतीय रिजर्व बैंक ने इस साल फरवरी से कुल मिला कर रेपो दर 1.35 फीसदी कम की है। लेकिन बैंक उसका लाभ ग्राहकों को पूरी तरह से नहीं दे रहे हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published.

seven + 5 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
राज्य वसूली व लापरवाही में 4 जूनियर इंजीनियर निलंबित
राज्य वसूली व लापरवाही में 4 जूनियर इंजीनियर निलंबित