• डाउनलोड ऐप
Wednesday, May 12, 2021
No menu items!
spot_img

सेंसेक्स 562 अंक लुढ़क कर 50 हजार से नीचे बंद

Must Read

मुंबई। वैश्विक स्तर पर अधिकतर मुख्य सूचकांकों में दर्ज की गई गिरावट और कंज्यूमर ड्यूरेबल, बैंकिंग समेत कैपिटल्स गुड्स एवं हेल्थकेयर समूह की कंपनियों में हुई भारी बिकवाली से घरेलू स्तर पर बुधवार को शेयर बाजार में सेंसेक्स 562.34 अंकों की बड़ी गिरावट के साथ पचास हजार से नीचे आते हुए 49,801.62 अंक पर और निफ़्टी 189.15 अंक फिसल कर 14,721.30 अंक पर बंद हुआ।

दिन की शुरुआत में सेंसेक्स में हांलाकि बढ़ोतरी देखी गई और गत दिवस के मुकाबले बीएसई का सेंसेक्स 72 अंक तथा नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 36 अंक की बढ़त के साथ खुला।

सत्र के दौरान कंज्यूमर ड्यूरेबल, बैंकिंग समेत कैपिटल्स गुड्स एवं हेल्थकेयर समूह समूह की कंपनियों में हुई भारी बिकवाली से सेंसेक्स और निफ़्टी गिरावट के साथ बंद हुए। दिग्गज कंपनियों, मझोली तथा छोटी कंपनियों में भी इस दौरान भारी बिकवाली हुई जिससे बीएसई का मिडकैप 2.22 प्रतिशत घटकर 20,043.70 अंक पर तथा स्मॉलकैप 2.12 प्रतिशत की बड़ी गिरावट के साथ 21 हजार अंक से निचे आते हुए 20,713.58 अंक पर रहा।

कंज्यूमर ड्यूरेबल समूह की कंपनियों में जहां सर्वाधिक 690.42 अंकों की गिरावट दर्ज की गई वही बैंकिंग में 620.17 अंक, कैपिटल्स गुड्स में 514.08 अंक और हेल्थकेयर समूह की कंपनियों में 418.87 अंक तथा ऑटो सेक्टर की कंपनियों में 416.62 अंकों की बड़ी गिरावट हुई।
बीएसई में आज कुल 3125 कंपनियों में कारोबार हुआ जिसमे से 837 कंपनियों के शेयर हरे निशान में और 2148 कंपनियों के शेयर लाल निशान में बंद हुये जबकि शेष 140 कंपनियों के शेयर दिनभर के उतार-चढ़ाव के बाद अंतत: अपरिवर्तित रहे।

बीएसई का सेंसेक्स हालांकि आज 72 अंकों की बढ़त लेकर 50,436.02 अंक पर खुला और दोपहर बाद 50,561.12 अंक के उच्चतम स्तर तक भी पहुंचा लेकिन अंत में पिछले दिवस के 50,363.96 अंक के मुकाबले 1.12 प्रतिशत यानी 562.34 अंक लुढ़क कर 49,801.62 अंक पर बंद हुआ।

एनएसई का निफ्टी भी हांलाकि 36 अंकों की बढ़त के साथ 14,946.55 अंक पर खुला। इसका दिवस का उच्चतम स्तर 14,956.55 अंक जबकि न्यूनतम स्तर 14,696.05 अंक रहा। अंत में यह गत दिवस की तुलना में 1.27 प्रतिशत यानी 189.15 अंक की गिरावट लेकर 14,721.30 पर बंद हुआ। निफ्टी की केवल दो कंपनियों के शेयर चढ़े और 48 के लाल निशान में रहे।

वैश्विक स्तर पर यूरोप और एशिया के अधिकतर मुख्य सूचकांकों में इस दौरान गिरावट दर्ज की गई। एशिया में जापान का निक्की 0.02 प्रतिशत और चीन का शंघाई कम्पोजिट 0.03 प्रतिशत लुढ़क गया जबकि हांगकांग का हैंगसैंग इस दौरान 0.02 प्रतिशत चढ़ा। वही यूरोप में ब्रिटेन के एफटीएसई में 0.26 प्रतिशत और जर्मनी के डैक्स में भी 0.03 प्रतिशत की कमी देखी गई।

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest News

कांग्रेस के प्रति शिव सेना का सद्भाव

भारत की राजनीति में अक्सर दिलचस्प चीजें देखने को मिलती रहती हैं। महाराष्ट्र की महा विकास अघाड़ी सरकार में...

More Articles Like This