शेयर बाजार ने दिया दहांई अंकों में रिटर्न - Naya India
कारोबार| नया इंडिया|

शेयर बाजार ने दिया दहांई अंकों में रिटर्न

मुंबई। विक्रम संवत 2075 निवेशकों के लिए बेहतर रहा क्योंकि इस वर्ष में घरेलू एवं वैश्विक कारकों से शेयर बाजार में निवेशकों को अपने निवेश पर करीब करीब 11 फीसदी का रिटर्न मिला है। विक्रम संवत 2075 में बीएसई का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 10.85 प्रतिशत अर्थात 3820.38 अंक और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 9.30 प्रतिशत अर्थात 985.50 अंक बढ़ा। हालांकि इस दौरान छोटी और मझौली कंपनियों ने निवेशकों को निराश किया और लगातार दूसरे वर्ष बीएसई का मिडकैप और स्मॉलकैप गिरावट में रहा।

ये खबर भी पढ़ेः मजबूत शुरुआत के बाद शेयर बाजार में गिरावट

सेंसेक्स में 10.84 प्रतिशत की बढोतरी को निवेशकों के लिए बेहतर कहा जा सकता है लेकिन यह बढोतरी कुछ चुनिंदा समूहों के बल पर दर्ज की गयी है। सेंसेक्स में शामिल 10 प्रमुख कंपनियों के बाजार पूंजीकरण में विक्र मसंवत 2075 में 9.06 लाख करोड़ रुपये की बढोतरी हुयी है जबकि बीएसई में शामिल 2455 अन्य कंपनियों के बाजार पूंजीकरण में 1.83 लाख करोड़ रुपये की गिरावट रही।

ये खबर भी पढ़ेः इंफोसिस में बिकवाली से गिरा शेयर बाजार

सेंसेक्स में शामिल 30 कंपनियों में से मात्र 12 कंपनियां ही 10 फीसदी से अधिक रिटर्न देने में सफल रही है। वि्रम संवत 2074 में सेंसेक्स ने 8.79 प्रतिशत का रिटर्न दिया था। पिछले 10 वर्षाें में विक्रम संवत 2075 ऐसा चौथा वर्ष है जब निवेशकों को दो अंकों में रिटर्न मिला है।बीएसई के मिडकैप में इस सवंत में 4.78 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गयी जबकि इससे पिछले संवत वर्ष में इसमें 7.65 प्रतिशत की गिरावट रही थी। बीएसई का स्मॉलकैप 11.47 प्रतिशत के नुकसान में रहा जबकि विक्रम संवत 2074 में यह 14.6 प्रतिशत के घोट में रहा था।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
मध्यप्रदेश में कोरोना के संक्रमण की दर बढ़ी, 9385 नए मामले
मध्यप्रदेश में कोरोना के संक्रमण की दर बढ़ी, 9385 नए मामले