शेयर बाजार ने गोता लगाया, सेंसेक्स 531 अंक लुढ़का

मुंबई। घरेलू शेयर बाजार में सोमवार को फिर बिकवाली के भारी दबाव में कोहराम का आलम बना रहा। सेंसेक्स पिछले सत्र से 531 अंक लुढ़ककर 48,348 के करीब बंद हुआ और निफ्टी भी 133 अंकों की गिरावट के साथ 14,239 पर बंद हुआ।

हालांकि कारोबार की शुरुआत मजबूती के साथ हुई, लेकिन मुनाफावसूली हावी होने के कारण दोनों प्रमुख सूचकांक गोता लगाने लगे।

ऊर्जा, तेल व गैस समेत आईटी और पावर सेक्टरों में भारी बिकवाली रही, जबकि हेल्थकेयर सेक्टर में लिवाली रहने से बाजार को थोड़ा सहारा मिला।

सेंसेक्स बीते सत्र से 530.95 अंकों यानी 1.09 फीसदी की गिरावट के साथ 48,347.59 पर बंद हुआ और निफ्टी भी 133 अंक यानी 0.93 फीसदी फिसलकर 14,238.90 पर ठहरा।

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के 30 शेयरों पर आधारित प्रमुख संवेदी सूचकांक सेंसेक्स पिछले सत्र से 375.14 अंकों की तेजी के साथ 49,253.68 पर खुलने के बाद 49,263.15 तक चढ़ा, लेकिन बिकवाली के दबाव में बंद होने से पहले 48,274.92 तक फिसला।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के 50 शेयरों पर आधारित प्रमुख संवेदी सूचकांक निफ्टी पिछले सत्र से 105.90 अंकों की तेजी के साथ 14,477.80 पर खुला और 14,491.10 तक उछला, जबकि दिनभर के कारोबार के दौरान निफ्टी का निचला स्तर 14,218.60 रहा।

बीएसई मिडकैप सूचकांक बीते सत्र से 214.53 अंकों यानी 1.14 फीसदी की गिरावट के साथ 18,547.34 पर बंद हुआ और स्मॉलकैप सूचकांक 211.25 अंकों यानी 1.15 फीसदी की गिरावट के साथ 18,210.80 पर ठहरा।

सेंसेक्स के 30 शेयरों में से सिर्फ नौ शेयर बढ़त के साथ बंद हुए, बाकी 21 शेयरों में गिरावट दर्ज की गई। सबसे ज्यादा तेजी वाले पांच शेयरों में एक्सिस बैंक (2.19 फीसदी), सनफार्मा (2.00 फीसदी), बजाज ऑटो (1.76 फीसदी), बजाज फिनसर्व (1.47 फीसदी) और एचडीएफसी बैंक (1.30 फीसदी) शामिल रहे।

सेंसेक्स के सबसे ज्यादा गिरावट वाले पांच शेयरों में रिलायंस (5.36 फीसदी), इंडसइंड बैंक (4.72 फीसदी), एचसीएलटेक (3.80 फीसदी), एशियन पेंट (3.17 फीसदी) और अल्ट्राटेक सीमेंट (3.04 फीसदी) शामिल रहे।

बीएसई के 19 सेक्टरों में से सिर्फ तीन सेक्टरों के सूचकांक बढ़त के साथ बंद हुए जबकि 16 सेक्टरों में गिरावट दर्ज की गई। बढ़त वाले सेक्टरों में हेल्थेयर (0.93 फीसदी), धातु (0.19 फीसदी) और आधारभूत सामग्री (0.04 फीसदी) शामिल रहे। वहीं, सबसे ज्यादा गिरावट वाले पांच सेक्टरों में ऊर्जा (4.44 फीसदी), तेल व गैस (2.16 फीसदी), पावर (1.41 फीसदी), औद्योगिक (1.32 फीसदी) और आईटी (1.31 फीसदी) शामिल रहे।

जानकार बताते हैं कि एशिया के अन्य बाजारों से सकारात्मक संकेत मिलने के बावजूद घरेलू शेयर बाजार में मुनाफावसूली के चलते भारी गिरावट दर्ज की गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares