nayaindia Target Killing Jammu Kashmir: फिर गैर कश्मीरी खून से रंगी घाटी!
kishori-yojna
देश | जम्मू-कश्मीर | ताजा पोस्ट| नया इंडिया| Target Killing Jammu Kashmir: फिर गैर कश्मीरी खून से रंगी घाटी!

गैर कश्मीरी खून से फिर रंगी घाटी! शोपियां में यूपी के दो लोगों की हत्या

कश्मीर | Target Killing Jammu Kashmir: जम्मू-कश्मीर में आतंक का नंगा नाच जारी है। आतंकियों ने एक बार फिर कायरना हरकत करते हुए टारगेट किलिंग की घटना को अंजाम दिया है। आतंकियों ने सोमवार रात शोपियां में गैर कश्मीरी दो लोगों की हत्या कर दी है। आतंकियों ने देर रात सोते हुए पर ग्रेनेड से हमला किया। हमले की सूचना के बाद पुलिस और भारतीय सुरक्षाबलों ने आतंकियों की तलाश में इलाके की घेराबंदी की और लश्कर के एक आतंकी को गिरफ्तार कर लिया।

यूपी के कन्नौज के रहने वाले थे दोनों
जानकारी के अनुसार, आतंकियों की घटना का शिकार हुए ये दोनों मृतक यूपी के कन्नौज जनपद के रहने वाले थे। घाटी में ये दोनों मजदूरी का काम करते थे और जीवन यापन कर रहे थे। इनका नाम मुशीर कुमार और राम सागर मिल बताया जा रहा है।

आतंकी ने कबूल की हमले की बात
हमले के बाद सुरक्षाबलों और पुलिस की घेराबंदी में गिरफ्तार किये गए आतंकी ने हमले की बात कबूल कर ली है। आपको बता दें कि, इससे दो दिन पहले ही आतंकियों ने एक कश्मीरी पंडितों को गोली का निशाना बनाया था। जिसकी इलाज के दौरान मौत हो गई थी। इसके अलावा आतंकी संगठन लगातार घाटी में गैर कश्मीरियों को निशाना बना रहे हैं और घाटी की आबोहवा में आतंकी जहर घोल रहे हैं।

ये भी पढ़ें:- दुनिया की हिम्मत कैसे जो विश्वगुरू को भूखा बताए!

लश्कर ए तैयबा का है आतंकी
Target Killing Jammu Kashmir: कश्मीर जोन के एडीजीपी विजय कुमार ने हमले के संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि शोपियां इलाके के हरमन में लश्कर ए तैयबा आतंकी इमरान बशीर गनी ने ग्रेनेड से हमला किया है। इस हमले में दो मजदूरों की मौत हो गई। हमले को अंजाम देने वाले आतंकी इमरान बशीर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

ये भी पढ़ें:- घाटी में अब्दुला, मेहबूबा आगे उकसाने वाली राजनीति करेंगे या समझाने वाली?

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

one × one =

kishori-yojna
kishori-yojna
ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
सरकारी वाहनों को कबाड़ में बदलने के लिए समुचित कोष
सरकारी वाहनों को कबाड़ में बदलने के लिए समुचित कोष