AIMIM के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने पूर्व गृह मंत्री पी चिदंबरम को घेरा, कहा- कांग्रेस ही लायी थी दमनकारी कानून - Naya India
ताजा पोस्ट | देश | दिल्ली| नया इंडिया|

AIMIM के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने पूर्व गृह मंत्री पी चिदंबरम को घेरा, कहा- कांग्रेस ही लायी थी दमनकारी कानून

नई दिल्ली | अपने बेबाक अंदाज के लिए देशभर में जाने जाने वाले असदुद्दीन ओवैसी ने पूर्व गृह मंत्री पी चिदंबरम की क्लास लगाई है. बता दें कि चिदंबरम ने हाल में ही तिहाड़ जेल से रिहा होने वाले छात्र कार्यकर्ता नताशा नरवाल, देवांगना कालिता और आसिफ की रिहाई पर खुशी जताई थी. ये तीनों छात्र कार्यकर्ता 2020 में हुए दिल्ली दंगे मामले में आरोपी बनाए गए थे. उसके बाद से अब तक जेल में ही बंद थे. ओवैसी ने चिदंबरम को निशाने पर लेते हुए कांग्रेस सरकार के साथ ही भाजपा पर भी हमला बोला है.

कांग्रेस ने बनाए थे दमनकारी कानून

ओवैसी ने एक ट्वीट कर कहा कि तीन खोखले ट्वीट लेकिन असल समस्या पर एक शब्द भी नहीं ? ओवैसी ने कहा कि वह जादुई शब्द UAPA बोलें. ओवैसी ने कहा कि अपने कार्यकाल में कांग्रेस ने दमनकारी कानून बनाए थे. इसी का फायदा लेकर अब भाजपा मुसलमानों और आदिवासियों की जिंदगी तबाह कर रही है. कांग्रेस पर हमलावर होते हुए ओवैसी ने भाजपा की भी क्लास लगा दी. उन्होंने कहा कि भाजपा ने विरासत में मिले दमनकारी कानूनों में और भी ज्यादा संशोधन कर इसे बदतर बना दिया उस समय आपकी पार्टी ने राज्यसभा में उसका साथ देने में कोई देरी नहीं की.

इसे भी पढ़ें – इंसानों के बाद जानवरों में हुई डेल्टा वैरिएंट की पुष्ठि, तमिलनाडु के चार शेर कोविड-19 पॉजिटिव

चिदम्बरम ने ये किया था ट्वीट

असदुद्दीन ओवैसी का ये ट्वीट पूर्व गृह मंत्री पी चिदंबरम के ट्वीट के बाद आया है. चिदंबरम ने ट्वीट कर इन तीनों की रिहाई पर कहा था कि नताशा , देवागाना, और आसिफ आपका हार्दिक स्वागत है. उन्होंने लिखा था कि आप तीनों जड़ता और उदासीनता के रेगिस्तान में उम्मीद की हरियाली हैं. इसके आगे चिदंबरम ने कहा था कि यह अफसोस की बात है अदालतें पुलिस पर जितना शक्ति दिखाती है उनके मालिकों और दमनकारी होते जाते हैं. लेकिन अंत में जीत सत्य की ही होती है.

इसे भी पढ़ें- #Milkha Singh के निधन पर ये क्या कह दिया Rahul Gandhi ने मच गया बवाल, जानें पूरा मामला 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *