Azam Khan's Health Update : सपा के दिग्गज नेता और रामपुर विधायक आजम खां की तबीयत नाजुक, ऑक्सीजन सपोर्ट पर ... - Naya India
देश | उत्तर प्रदेश | ताजा पोस्ट| नया इंडिया|

Azam Khan’s Health Update : सपा के दिग्गज नेता और रामपुर विधायक आजम खां की तबीयत नाजुक, ऑक्सीजन सपोर्ट पर …

Lucknow: रामपुर से सांसद आजम खां की तबीयत नाजुक हो गई है. बता दें कि आजम लंबे समय से कोरोना से संक्रमित हैं और दिन पर दिन उनकी तबीयत बिगड़ती जा रही है. अब उन्हें बेहतर इलाज के लिए लखनऊ के मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया है. बताया जा रहा है कि आजम खां की हालत में कोई खास सुधार नहीं है और अब वह ऑक्सीजन सपोर्ट पर निर्भर हो गए हैं. जानकारी के अनुसार बीते दिनों उनकी हालत को देखते हुए उन्हें मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया था. लेकिन हालत में लगातार हो रही गिरावट के कारण उन्हें आईसीयू में शिफ्ट कर दिया गया है. अब अस्पताल में आजम पूरी तरह से ऑक्सीजन पर निर्भर हैं और संक्रमण उनके फेफड़ों तक पहुंच गया है. बता दें कि 72 वर्ष के आजम खां समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता रहे हैं. वे मुलायम सिंह यादव की सरकार के साथ ही अखिलेश यादव की सरकार ने भी कैबिनेट मंत्री रहे हैं.

बेटे की रिर्पोट आई निगेटिव

बता दें कि आजम खान के साथ ही उनके बेटे अब्दुल्ला आजम की भी कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी. लेकिन अब अब्दुल्ला की तबीयत में लगातार सुधार हो रहा है और उनकी कोरोना जांच की रिपोर्ट भी नेगेटिव आ चुकी है. बता दें कि 15 महीने से भी ज्यादा समय से दोनों बाप बेटे उत्तर प्रदेश के सीतापुर जेल में बंद है. इनके ऊपर अवैध जमीन का कब्जा करने के साथ ही फर्जी दस्तावेज बनवाने संबंधित कई मामले दर्ज हैं. 9 मई को दोनों बाप बेटों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद दोनों को अस्पताल में भर्ती किया गया था. करुणा की रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद भी अब्दुल्ला को अस्पताल से डिस्चार्ज नहीं किया गया है.

इसे भी पढ़ें- बिहार में 12-15 जून के मध्य दस्तक देगा मानसून, सितंबर तक बरसेगा

वैक्सीन लगवाने से आजम खां ने किया था इनकार

जानकारी के अनुसार कोरोना की वैक्सीन लगवाने को लेकर आजम खां ने मना कर दिया था. गोलू की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद प्रशासन ने उन्हें एसजीपीजीआई में एडमिट करने के लिए प्रस्ताव रखा था लेकिन आजम खां की ओर से मेदांता अस्पताल में इलाज करवाने की मांग की गई थी. बाद में जेल प्रशासन ने उनके अनुरोध पर उन्हें मेदांता अस्पताल में भर्ती करा दिया था. मेदांता अस्पताल में इलाज करा रहे आजम खां के समर्थक लगातार उनकी तबीयत की जानकारी लेने के लिए अस्पताल के बाहर खड़े हैं . इससे अस्पताल प्रबंधन को भी उनके इलाज में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है.

इसे भी पढ़ें- UP: जहरीली शराब दुखान्तिका, मरने वालों की संख्या हुई 22, फरार आरोपियों पर 50-50 हजार का इनाम, मृतकों के परिजनों को 5 लाख का मुआवजा

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *