Ganpati Immersion Mumbai News : कोरोना से मुक्ति का आशीर्वाद दे लौटे "बप्पा"
ताजा पोस्ट | देश | महाराष्ट्र| नया इंडिया| Ganpati Immersion Mumbai News : कोरोना से मुक्ति का आशीर्वाद दे लौटे "बप्पा"

कोरोना से मुक्ति का आशीर्वाद दे लौटे “बप्पा”, Mumbai में 19,779 प्रतिमाओं का हुआ विसर्जन

Ganpati Immersion Mumbai News :

मुंबई | Ganpati Immersion Mumbai News : कोरोना से मुक्ति का आशीर्वाद देकर बप्पा लौट गये. कल गणेश उत्सव के अंतिम दिन मुंबई में रात 9 बजे तक विसर्जन की अनुमति दी गई थी. बताया गया है कि शहर के अलग-अलग हिस्सों में गणपति और माता गौरी की 19,779 प्रतिमाओं का विसर्जन किया गया. स्थानीय निकाय के एक अधिकारी ने बताया कि कोरोना के कारण इस बार लगातार दूसरे साल बेहद कड़ी पाबंदियों के साथ गणेश उत्सव मनाया गया. उन्होंने बताया कि विसर्जन के दौरान अभी तक कहीं से किसी अप्रिय घटना की सूचना नहीं है. बता दें कि सामान्य स्थिति में गणेश उत्सव के दौरान मुंबई में गणपति पंडालों में भारी भीड़, दर्शन के लिए श्रद्धालुओं की लंबी-लंबी कतारें नजर आती थीं, लेकिन पिछले दो वर्षों से उत्सव कुछ फीका सा है.

10 सितंबर से शुरू हुआ था गणेश उत्सव

Ganpati Immersion Mumbai News : इस बार गणेश उत्सव 10 सिंतबर से शुरू हुआ था. महाराष्ट्र में विशेष तौर पर 10 दिनों तक इस उत्सव को मनाया जाता है. 10 दिनों तक लोग घर में भगवान गणेश की पूजा-अर्चना करते हैं. इस बार भी लोगों ने कोरोना से मुक्ति के लिए भगवान गणेश से आशीर्वाद मांगा. बृहन्मुंबई महानगरपालिका (BMC) के एक अधिकारी ने बताया कि नगर निकाय ने गणपति विसर्जन के लिए शहर में 173 जगहों पर कृत्रिम झील बनाई हैं, इसके अलावा प्रतिमाएं एकत्र करने के लिए केन्द्र, सचल विसर्जन स्थल भी बनाए गए हैं. ये सारी व्यवस्थाएं कोविड-19 को ध्यान में रखते हुए की गयी हैं.

इसे भी पढें – नेताओं का खूब भा रही हैं Rakhi Sawant, AAP विधायक के बाद अब UP विधानसभा अध्यक्ष ने लिया नाम…

किये गये थे विशेष इंतजाम

Ganpati Immersion Mumbai News : BMC अधिकार ने बताया कि क्षेत्र में 73 प्राकृतिक जल स्रोतों में गणपति विसर्जन की पूरी व्यवस्था की गयी. रविवार रात नौ बजे तक सार्वजनिक मंडलों की 1910 प्रतिमाओं, निजी रूप से स्थापित गणेश जी की 17,623 प्रतिमाओं और माता गौरी की 246 प्रतिमाओं का विभिन्न स्थानों पर विसर्जन किया गया. उन्होंने बताया BMC ने विसर्जन को ध्यान में रखते हुए प्राकृतिक जल स्रोत वाले विसर्जन स्थलों पर 715 लाइफ गार्ड तैनात किए थे. इसके साथ ही 182 निर्मल वाहन, 185 नियंत्रण कक्ष, 144 प्राथमिक चिकित्सा केन्द्रों और 39 एम्बुलेंस की व्यवस्था की थी.

इसे भी पढें- Charanjit Singh Channi आज लेंगे पंजाब के CM पद की शपथ, होंगे पहले दलित मुख्यमंत्री

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
North Korea ने फिर किया मिसाइल परीक्षण, अमेरिकी इंटेलिजेंस जुटी जानकारी जुटाने में
North Korea ने फिर किया मिसाइल परीक्षण, अमेरिकी इंटेलिजेंस जुटी जानकारी जुटाने में