railway protection force rpf 244 लड़कियों को दलालों से मुक्त करवाया
देश | बिहार| नया इंडिया| railway protection force rpf 244 लड़कियों को दलालों से मुक्त करवाया

244 लड़कियों को दलालों से मुक्त करवाया

railway protection force rpf

पटना। रेलवे के सुरक्षा बलों (Railway Protection Force) ने कई बच्चों और लड़कियों को दलालों के चुंगल से बचाया। आरपीएफ (RPF) के मुख्य सुरक्षा आयुक्त एस. मयंक (S Mayank) ने बताया कि पूर्व मध्य रेल के विभिन्न स्टेशनों और ट्रेनों से एक अप्रैल से 31 अगस्त तक 596 बच्चों (596 child) को दलालों के चंगुल से मुक्त कराया गया है। इनमें करीब 244 लड़कियों और 353 लड़के है। इन बच्चों को दलाल अपने साथ ले जा रहे थे। पुलिस ने 35 दलों को भी गिरफ्तार कर उनकी पर कार्यवाही की है। यह कार्रवाई दानापुर, सोनपुर, दीनदयाल उपाध्याय, धनबाद और समस्तीपुर रेल मंडल पर की गई। railway protection force rpf

बच्चों को घर-परिवार से दूर कर उनसे मजदूरी कराने का खेल अभी भी जारी है। इस साल अप्रैल से अगस्त तक रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) द्वारा दलालों के चंगुल से छुड़ाए गए 596 बच्चे इसका प्रमाण हैं। आरपीएफ द्वारा दी गई जानकारी चौंकाने वाली है। शुक्र है कि इन बच्चों को श्रम की भट्ठी में झोंके जाने से बचा लिया गया, पर इससे यह भी स्पष्ट है कि बच्चों को मजदूरी के लिए बड़ी संख्या में बाहर ले जाया जा रहा है।

gorakhpur police seized property

Read also पंजाब नेशनल बैंक का डिप्‍टी मैनेजर गिरफ्तार

बच्चों के सौदागर सबसे ज्यादा गया, औरंगाबाद, नवादा, कैमूर आदि क्षेत्रों में सक्रिय हैं। इनकी नजर गरीब परिवारों पर रहती है और दो-चार हजार देकर बच्चों की बेहतर जिंदगी का सब्जबाग दिखा उन्हें जयपुर की चूड़ी फैक्ट्रियों से लेकर दिल्ली, कोलकाता आदि महानगरों में बेच आते हैं। फिर शुरू होता है उनका नारकीय जीवन। पहले ज्यादातर लड़कों को ही ले जाया जाता था, पर अब नाबालिग लड़कियों को भी ले जाया जा रहा है। इनमें अधिसंख्य झारखंड से हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
Fabindia के दिवाली पर जश्न-ए-रिवाज कैंपेन से मचा बवाल, लोगों ने बताया शर्मनाक…
Fabindia के दिवाली पर जश्न-ए-रिवाज कैंपेन से मचा बवाल, लोगों ने बताया शर्मनाक…