Firing in Bihar : बिहार में दिन-दहाड़े चली अंधाधुंध गोलियां...........
देश | बिहार| नया इंडिया| Firing in Bihar : बिहार में दिन-दहाड़े चली अंधाधुंध गोलियां...........

बिहार में दिन-दहाड़े चली अंधाधुंध गोलियां, 2 की मौके पर मौत, 2 घायल – जानिए क्या है पूरा मामला

Firing in Bihar : बिहार में दिन दहाड़े भयानक मंजर देखने को मिला। फिल्मी स्टाइल में बाइक सवारों ने महाराजगंज रामप्रीत मोड़ के पास अंधाधुंध फायरिंग की। इस दौरान जो मिला उसे गोली मारते रहे। चार लोगों को ताबड़तोड़ कई गोलियां लगीं। इसमें दो लोगों की मौके पर ही मौत हो गई और दो लोग घायल हैं। दोनों घायलों को स्थानीय अस्पताल से सीवान के सदर अस्पताल रेफर कर दिया गया है। अचानक हुई वारदात से पूरे इलाके में अफरातफरी मच गई। वारदात की खबर लगते ही पुलिस प्रशासन में भी हड़कंप मच गया। नाकेबंदी कर जांच शुरू कर दी गई। लेकिन कोई सफलता नहीं मिल सकी है। वारदात का कारण भी पुलिस को पता नहीं चल सका है।

Firing in Bihar :

Firing in Bihar : प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार गुरुवार की दोपहर करीब पौने तीन बजे बाइक सवार दो बदमाशों ने महाराजगंज के रामप्रीत मोड़ के पास फायरिंग शुरू की। बाइक पर पीछे बैठा बदमाश तीन पिस्टल से गोली चला रहा था। बाइक सवार बदमाश ने फिल्मी स्टाइल में गोलियां चलाईं। सबसे पहले बाइक सवार अरमान मंसूरी नामक युवक को गोली मारी। मौके पर ही उसकी मौत हो गई। अरमान सब्जी लेकर घर लौट रहा था। इसके बाद थोड़ा आगे बढ़कर एक अन्य युवक सुदामा यादव को गोलियां मारी। उसकी अस्पताल में मौत हो गई।

Firing in Bihar :

इसे भी पढ़े-  कोरोना से प्रभावित हुए बच्चों को मिलेगा 5 लाख रुपये का मुफ्त स्वास्थ्य बीमा, भुगतान पीएम केयर्स से किया जाएगा

आगे बढ़ने पर एसबीआई के करीब राहगीर रघुनाथपुर के अशोक पटेल को गोली मारी। अशोक पटेल भी गोली लगते ही गिर पड़े। बदमाश वहां से आगे बढ़े तो साइड नहीं देने पर कार चला रहे दरौंदा के रगड़गंज निवासी मनीष कुमार को गोली मार दी। मनीष अपनी मां के साथ कहीं जा रहे थे। एक साथ चार लोगों के गोली लगने से लहूलुहान होकर गिरा देख पूरे इलाके में हड़कंप मच गया। बुरी तरह घायल अशोक और मनीष को स्थानीय अस्पताल पहुंचाया गया। हालत गंभीर देख वहां से सीवान के सदर अस्पताल रेफर कर दिया गया है। पुलिस मौका मुआयना कर जांच में जुटी है। आसपास के सीसीटीवी फुटेज भी खंगाले जा रहे हैं। फिलहाल घटना का कारण भी नहीं पता चल सका है।

इसे भी पढ़े-  रवि दहिया ने लिख दिया इतिहास में नाम, ओलंपिक कुश्ती में रजत पदक जीतने वाले दूसरे भारतीय बने

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow