• डाउनलोड ऐप
Wednesday, May 12, 2021
No menu items!
spot_img

CBSE की रजिस्ट्रेशन डेट में फिर बदलाव,  डिटेल जानने के लिए पढें पूरी खबर

Must Read

New Delhi: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने 2022-23 एफलिएशन प्रोसेस से संबंधित विभिन्न प्रक्रिया के लिए समय-सीमा बढ़ा दी है. बोर्ड ने कहा कि उन्नयन, नए पंजीकरण और संबद्धता के विस्तार को COVID-19 की वर्तमान स्थिति को ध्यान में रखते हुए बढ़ाया गया है. CBSE एफिलिएशन की समयसीमा पर आधिकारिक बयान में कहा गया है कि वर्तमान COVID-19 स्थिति पर गहन विचार और समीक्षा करने के बाद बोर्ड के सक्षम प्राधिकरण ने नए संबद्धता के लिए ऑनलाइन आवेदन की पहली विंडो अवधि, संबद्धता के उन्नयन और विस्तार तक बढ़ा दी है. बिना किसी लेट फीस के सत्र 2022-23 के लिए 30.06.2021 तक आवेदन किया जा सकता है. बोर्ड ने कहा था कि सीबीएसई की नई संबद्धता प्रणाली 1 मार्च से लागू हो गई थी. नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति (एनईपी) में व्यवस्थित सुधारों के लिए विभिन्न सिफारिशों के अनुसार प्रणाली का पुनर्गठन किया गया है.

वेबसाइट पर दी जाएगी जानकारी

सीबीएसई संबद्धता की समय सीमा को देश में वर्तमान कोविड 19 स्थिति को ध्यान में रखते हुए संशोधित किया गया है. सीबीएसई संबद्धता के अधिक अपडेट के लिए स्कूलों को सीबीएसई की ऑफिशियल वेबसाइट पर एक चेक रखने की सलाह दी गई है. केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने इस महीने की शुरुआत में अपनी कक्षा 10 की बोर्ड परीक्षा रद्द कर दी और कक्षा 12 की बोर्ड परीक्षा को टाल दिया. सीबीएसई के फैसले के बाद, कई राज्य बोर्डों ने अपनी परीक्षाएं भी स्थगित या रद्द कर दी हैं. इसके अलावा, बिगड़ती COVID-19 स्थिति को देखते हुए ICSE कक्षा 10 की बोर्ड परीक्षा भी रद्द कर दी गई है.

इसे भी पढें-  Corona crisis के बीच Central government ने खोला खजाना, राज्यों को जारी की 8,873 करोड़ की पहली क़िस्त

जारी की जाएगी नई डेट शीट

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) बोर्ड के कक्षा 12 के छात्रों के लिए आर्ट्स, साइंस और कॉमर्स की संशोधित या नई डेट शीट अब जून में जारी की जाएगी, और विषयवार तारीखों को अपडेट किया जाएगा. सीबीएसई की एक हालिया अधिसूचना के अनुसार, बोर्ड अब कक्षा 9 से 12 के छात्रों का मूल्यांकन real-life or unfamiliar situations” में एप्लिकेशन ऑफ कॉन्सेप्ट के आधार पर करेगा. सीबीएसई की सक्षमता आधारित शिक्षा परियोजना अगले दो-तीन वर्षों में राष्ट्रीय शिक्षा नीति (एनईपी) 2020 के अनुसार मौजूदा रॉट लर्निंग मॉडल को एक योग्यता-आधारित ढांचे के साथ बदलने की संभावना है.

इसे भी पढें-  बाॅलीवुड के मशहूर अभिनेता Bikramjeet Kanwarpal का कोरोना से निधन, कई हस्तियों ने जताया दुख

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest News

कांग्रेस के प्रति शिव सेना का सद्भाव

भारत की राजनीति में अक्सर दिलचस्प चीजें देखने को मिलती रहती हैं। महाराष्ट्र की महा विकास अघाड़ी सरकार में...

More Articles Like This