bhupesh baghel raman singh रमन सिंह को उनकी पार्टी के लोग ही अपना नेता
देश | छत्तीसगढ़| नया इंडिया| bhupesh baghel raman singh रमन सिंह को उनकी पार्टी के लोग ही अपना नेता

Raman Singh को उनकी पार्टी के लोग ही अपना नेता नहीं मानते उनकी बात का जवाब देना भी उचित नहीं समझता: मुख्यमंत्री

bhupesh baghel raman singh

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Chief Minister Bhupesh Baghel ) ने पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह (former Chief Minister Dr. Raman Singh) को लेकर सोमवार को बड़ा तंज कसा है। उन्होंने कहा, रमन सिंह को उनकी पार्टी के लोग ही नेता नहीं मानते। उनकी पार्टी ने उनकी यह हैसियत बना दी है। ऐसे में वे उनकी किसी बात का जवाब देना उचित नहीं समझते। दुर्ग (Durg) के सलूद में आयोजित सहकारिता सम्मेलन में जाने से पहले प्रेस से बात करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने यह बयान दिया। bhupesh baghel raman singh

उन्होंने कहा, ‘उन्हें रमन सिंह की वह बात याद आ रही है। मैं जब भी मीडिया से बात करता था तो रमन सिंह (Raman Singh) कहते थे भूपेश सो कर उठकर तैयार होते हैं और सीधे मीडिया से बात करते हैं। उनके पास कोई काम नहीं है। उस समय जो बात वे मेरे लिए बोले थे, वही बात आज उनके लिए लागू है। उनके पास कोई काम नहीं है।’ मुख्यमंत्री ने कहा, ‘पुरंदेश्वरी देवी पहले ही कह चुकी हैं, यह हमारा चेहरा नहीं है। उसके बाद इन्होंने कहा, मुख्यमंत्री पद के बहुत से चेहरे हैं, जिसमें एक छोटा चेहरा मैं भी हूं। पुरंदेश्वरी जी ने उसको भी नकार दिया है।

baghel

यह भी पढ़ें: कांग्रेस व भाजपा दोनों जात के भरोसे!

15 साल तक मुख्यमंत्री रहे लेकिन उन्हीं के दल के लोग उन्हें नेता नहीं मानते।

मुख्यमंत्री ने कहा, हमको बहुत दु:ख होता है कि वे 15 साल तक मुख्यमंत्री (CM) रहे हैं। हम आज भी उनको नेता मानते हैं, लेकिन उन्हीं के दल के लोग उन्हें नेता नहीं मानते। ऐसे में उनके बारे में कोई बात कहना मैं उचित नहीं समझता।’ पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के एक बयान पर पलटवार करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Bhupesh Baghel) ने कहा, रमन सिंह ख्याली पुलाव न पकाएं। वे अपने दल और अपनी स्थिति को देखें, किसी के घर मे तांकझांक ना करें। पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने सोमवार सुबह ढाई-ढाई वाले मुख्यमंत्री वाली चर्चा पर एक बयान दिया था। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सोमवार को दुर्ग जिले के सेलूद गांव में आयोजित सहकारिता सम्मेलन में शामिल होने गए हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
सोनिया की नसीहत अगले ही दिन बेअसर
सोनिया की नसीहत अगले ही दिन बेअसर