सेना प्रमुख ने चीन को दी चेतावनी - Naya India
देश | समाचार मुख्य| नया इंडिया|

सेना प्रमुख ने चीन को दी चेतावनी

नई दिल्ली।  सेना दिवस के मौके पर शुक्रवार को थल सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे ने बहुत साफ शब्दों में चीन को चेतावनी दी। उन्होंने कहा कि किसी को भी भारत के सब्र की परीक्षा लेने की गलती नहीं करनी चाहिए। सेना प्रमुख ने इसके साथ ही यह भी कहा कि पिछले साल जून में गलवान घाटी में शहीद हुए सैनिकों का बलिदान बेकार नहीं जाएगा। गौरतलब है कि भारत और चीन के बीच पिछले साल अप्रैल से ही पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर तनाव चल रहा है। इस तनाव के बीच शुक्रवार को सेना दिवस मनाया गया। इस मौके पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित देश के तमाम नेताओं और मशहूर हस्तियों ने देश के जवानों की वीरता को सलाम किया।

इस मौके पर सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे ने अपने बयान में कहा- आप सभी चीन के साथ मौजूदा तनाव के बारे में जानते हैं। सीमा पर एकतरफा तरीके से यथास्थिति बदलने की साजिश का भारत की ओर से मुंहतोड़ जवाब दिया गया है। उन्होंने कहा- मैं देशवासियों को यह विश्वास दिलाना चाहता हूं कि गलवान घाटी में अपनी जान गंवाने वाले सैनिकों का बलिदान बेकार नहीं जाएगा।

सेना प्रमुख ने कहा- हम बातचीत के ज़रिए मसले का समाधान करने के पक्षधर हैं। किसी को भारत के सब्र की परीक्षा लेने की गलती नहीं करनी चाहिए। थल सेना प्रमुख ने पाकिस्तान से सीमा पार आतंकवाद पर कहा कि पड़ोसी देश अब भी आतंकियों के लिए सुरक्षित पनाहगाह बना हुआ है। उन्होंने कहा कि दुश्मन को मुंहतोड़ जवाब दिया जा रहा है। सेना प्रमुख ने बताया कि पिछले साल आतंकरोधी अभियानों में दो सौ से ज्यादा आतंकवादी मारे गए हैं। उन्होंने यह भी कहा कि सीमा के करीब तीन से चार सौ की तादाद में आतंकवादी घुसपैठ करने की फिराक में अपने प्रशिक्षण शिविरों में मौजूद हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *