nayaindia CM Gehlot CBI Raid : भाई के घर की रेड से मैं घबराने और डरने वाला...
ताजा पोस्ट | देश | राजस्थान| नया इंडिया| CM Gehlot CBI Raid : भाई के घर की रेड से मैं घबराने और डरने वाला...

सीएम गहलोत ने कहा- भाई के घर की रेड से मैं घबराने और डरने वाला नहीं…

CM Gehlot CBI Raid :
Image Source : DNA

जयपुर | CM Gehlot CBI Raid : राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत के भाई के घर पर CBI की टीम ने रेड मारी थी. अब इसपर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी रिएक्शन दिया है. उन्होंने अपने भाई अग्रसेन के घर परछापा मारे जाने को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि इससे वे घबराने वाले नहीं हैं और इस तरह की कार्रवाई का नुकसान अंतत: भाजपा और केंद्र सरकार को ही होगा. श्री गहलोत ने कहा कि दिल्ली में उनकी हालिया सक्रियता का बदला केंद्र सरकार उनके भाई के खिलाफ छापेमारी करके ले रही है. उन्होंने बताया कि अन्य स्थानों पर भी छापेमारी की जा रही है. बता दें कि शुक्रवार को अग्रसेन गहलोत के जोधपुर स्थित आवास पर भ्रष्टाचार के एक मामले में छापा मारा है. 2020 में प्रवर्तन निदेशालय (ED) की टीम ने भी अग्रसेन गहलोत के यहां छापेमारी की थी.

मैं दिल्ली में सक्रिय को भाई से बदला…

CM Gehlot CBI Raid : दिल्ली से लौटने पर मुख्यमंत्री गहलोत ने यहां हवाई अड्डे पर संवाददाताओं से कहा कि मैं अगर दिल्ली में सक्रिय हूं या मैंने राहुल गांधी के आंदोलन में भाग लिया तो इसका बदला मेरे भाई से क्यों लिया जाता है? यहां हमारी सरकार पर संकट साल 2020 में भी आया, तब भी भाई के यहां ED की छापेमारी हुई. उन्होंने कहा कि इसे उचित नहीं कहा जाता सकता और इससे वह घबराने वाले नहीं हैं. मुख्यमंत्री ने कहा कि उनके भाई का राजनीति से कोई लेना देना नहीं है. उन्होंने सरकार के रवैये को समझ से परे बताते हुए कहा कि पहले ED से छापेमारी कराई गई, अब CBI से छापेमरी करा रहे हैं.

इसे भी पढें- गेंदे के फूलों की बिकिनी पहनकर Urfi Javed ने बढ़ाया इंटरनेट का तापमान\

रवैया समझ से परे है, नुकसान भाजपा का…

CM Gehlot CBI Raid : सीएम गहलोत ने कहा कि इसे देश की जनता पसंद नहीं करती और धीरे-धीरे नुकसान भाजपा व केंद्र सरकार को ही होगा. उन्होंने कहा कि ये जितने ज्यादा देश में लोगों को तंग करेंगे उतना ज्यादा उल्टा असर इनके लिए होगा. उन्होंने कहा कि उन्होंने तो हाल ही में सीबीआई निदेशक, ईडी के निदेशक व आयकर विभाग के चेयरमैन से मिलने का समय मांगा था. उन्होंने कहा कि13 जून को समय मांगा, 15 को मुकदमा दर्ज हुआ और 17 जून को छापे पड़ गए. यह क्या रवैया है, यह समझ से परे हैं. बता दें कि ED द्वारा कांग्रेस नेता राहुल गांधी को नोटिस जारी किए जाने के खिलाफ कांग्रेस नेताओं व कार्यकर्ताओं के आंदोलन में भाग लेने के लिए मुख्यमंत्री गहलोत कई दिन से दिल्ली में थे.


इसे भी पढें-गिरते गिरते बची Urvashi Rautela फैंस बोले ऋषभ पंत को बुलाए क्या

Leave a comment

Your email address will not be published.

six + twenty =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
यूपी में अखिलेश को नीतीश की जरूरत
यूपी में अखिलेश को नीतीश की जरूरत