Uttar Pradesh Election Congress : कांग्रेस भरना चाहती है 'भात', Rajasthan ...
देश | उत्तर प्रदेश | ताजा पोस्ट | लेख स्तम्भ | राजनीति | राजस्थान| नया इंडिया| Uttar Pradesh Election Congress : कांग्रेस भरना चाहती है 'भात', Rajasthan ...

Uttar Pradesh में कांग्रेस भरना चाहती है ‘भात’, Rajasthan में अपने बच्चों को लगा रही है ‘डांट’…

Uttar Pradesh Election Congress :

Nishant Sharma

नई दिल्ली | Uttar Pradesh Election Congress : उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर प्रियंका गांधी वादों की झड़ी लगा रही हैं. बात भी सही है लगभग 3 दशकों से कांग्रेस उत्तर प्रदेश में कुछ भी नहीं कर पाई है. अंतिम बार 1988 में एनडी तिवारी के नेतृत्व में कांग्रेस की सरकार उत्तर प्रदेश में बनी थी.

ऐसा ही एक वादा प्रियंका गांधी ने किया है कि उत्तर प्रदेश में यदि उनकी सरकार बन जाती है तो वह बेरोजगारों को नौकरी देंगी. इतना ही नहीं प्रियंका गांधी ने यह भी कहा है कि संविदा के तहत काम कर रहे युवाओं को स्थायित्व प्रदान करेंगी. चुनावी वादों की नजर से देखे तो यह सब सुनने में ही अच्छा लगता है. यह कुछ ऐसा है कि कांग्रेस इन बातों को करते हुए उस मां की तरह दिखती है जो अपने बच्चों को भोजन का वादा कर पड़ोसियों की तैयारी करती है. अब आप खुद ही समझदार है जिस मां के अपने बच्चे भूखे हैं वह दूसरों को कभी खाना नहीं डाला करती.

खुद के बच्चे भूखे नहीं रखती मां

Uttar Pradesh Election Congress : शायद यही कारण है कि प्रियंका गांधी को इंदिरा गांधी का रूप बताकर मैदान में लाने वाले कांग्रेस ने उन्हें उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव का प्रभारी बनाया है. शुरुआत में प्रियंका गांधी को कुछ लोकप्रियता मिली थी और वह महिलाओं से जुड़ने में सफल भी हुई थी. समय बीतने के साथ ही प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश में कुछ और वक्त व्यतीत किया. अब जब चुनाव करीब आते हैं तो प्रियंका गांधी ने वादों की झड़ी लगा दी है. अब ये वादे कांग्रेस के लिए ही परेशानी बन गई हैं.

इसे भी पढ़ें-उबर कैब की नई सर्विस, व्हाट्सएप के माध्यम से बुक करें उबर, जानें आसान चरणों में मैसेजिंग प्लेटफॉर्म से टैक्सी बुक करने का तरीका

प्रदर्शन कर रहे हैं संविदा कर्मी

Uttar Pradesh Election Congress : बता दें कि जब से प्रियंका गांधी ने क्या बयान दिया है तब से कांग्रेस की परेशानियां और बढ़ गई है. इसके पीछे का कारण यह है कि राजस्थान के कुछ बेरोजगार युवा उत्तर प्रदेश पहुंच गए हैं और अपनी संविदा नौकरी को स्थाई करने की मांग कर रहे हैं.

बात भी सही है जब पड़ोसी राज्य में कांग्रेस की सरकार है और वहां युवा संविदा पर नौकरी कर रहे हैं तो फिर इस बात का क्या भरोसा कि यूपी में सरकार बनने के बाद ऐसा कुछ होने वाला है. कांग्रेस प्रदर्शन करते युवाओं को भारतीय जनता पार्टी के इशारे पर काम करता हुआ बता रही है. हो सकता है कि ऐसा सच भी हो. लेकिन बात उठती है कि ऐसे बातें करें ही क्यों जिनके अस्तित्व ना हो.

इसे भी पढ़ें- उबर कैब की नई सर्विस, व्हाट्सएप के माध्यम से बुक करें उबर, जानें आसान चरणों में मैसेजिंग प्लेटफॉर्म से टैक्सी बुक करने का तरीका

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
चुनावों से पहले नवजोत सिंह सिद्धू ने एलोन मस्क को पंजाब में किया आमंत्रित, मस्क ने कहा- सरकार के साथ कई..
चुनावों से पहले नवजोत सिंह सिद्धू ने एलोन मस्क को पंजाब में किया आमंत्रित, मस्क ने कहा- सरकार के साथ कई..