nayaindia Hardik Patel Resignation : हार्दिक पटेल ने दिया इस्तीफा...
ताजा पोस्ट | देश| नया इंडिया| Hardik Patel Resignation : हार्दिक पटेल ने दिया इस्तीफा...

चिंतन शिविर के बाद फिर बढ़ी कांग्रेस की चिंता, अब हार्दिक पटेल ने दिया इस्तीफा…

Hardik Patel Resignation :
Image Source : Times Of India

नई दिल्ली | Hardik Patel Resignation : लगता है कि चिंतन शिविर के बाद भी कांग्रेस की चिंताएं कम होने का नाम नहीं ले रही है. ताजा मामला गुजरात से सामने आया है जहां कांग्रेस की गुजरात इकाई के कार्यकारी अध्यक्ष हार्दिक पटेल ने बुधवार को पार्टी से इस्तीफा दे दिया है. हार्दिक ने खुद कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को भेजे गए त्यागपत्र को ट्विटर पर पोस्ट कर यह जानकारी दी कि उन्होंने पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है. हार्दिक ने कांग्रेस पर गुजरात विरोधी सोच होने का आरोप लगाया और दावा किया कि कांग्रेस सिर्फ विरोध की राजनीति कर रही है और खुद को एक विकल्प के तौर पर पेश करने में विफल रही है.

कांग्रेस के लिए बड़ा झटका

Hardik Patel Resignation : हार्दिक ने कहा कि आज मैं हिम्मत करके कांग्रेस पार्टी की गुजरात इकाई के कार्यकारी अध्यक्ष पद और पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा देता हूं. उन्होंने कहा कि मुझे विश्वास है कि मेरे इस निर्णय का स्वागत मेरा हर साथी और गुजरात की जनता करेगी. हार्दिक ने ये भी कहा कि मैं मानता हूं कि मेरे इस कदम के बाद मैं भविष्य में गुजरात के लिए सच में सकारात्मक रूप से कार्य कर पाऊंगा. बता दें कि बीते कुछ दिनों से लगातार इस बात की चर्चा जोरों पर थी कि हार्दिक कभी भी अपने पद से इस्तीफा दे सकते हैं. आने वाले गुजरात विधानसभा चुनाव के पहले ये कांग्रेस के लिए एक बड़ा झटका साबित हो सकता है. इसके पीछा का कारण है कि हार्दिक युवाओं में खासे लोकप्रिय थे और ऐसे में विधान सभा चुनाव के पहले उनका इस्तीफा देना कहीं ना कहीं कांग्रेस के परेशानी बढ़ाने वाला साबित हो सकता है.

इसे भी पढें- मुलायम वचन के पक्के अखिलेश में यह गुण नहीं: शिवपाल

Hardik Patel Resignation : हार्दिक ने कहा कि हम 21वीं सदी में हैं और भारत दुनिया का सबसे युवा देश है. हमारे देश का युवा एक मजबूत और सक्षम नेता चाहता है. लोग हमेशा एक ऐसे विकल्प की तलाश में रहते हैं जो उनके भविष्य के बारे में सोचता हो और भारत को आगे ले जाने में सक्षम हो. अयोध्या में राम मंदिर हो, जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को रद्द करना, जीएसटी का कार्यान्वयन – भारत लंबे समय से इन विषयों का समाधान चाहता था . कांग्रेस ने केवल एक अवरोधक की भूमिका निभाई और हमेशा केवल अवरोधक थी. बता दें कि मीडिया में चल रही खबरों के अनुसार हार्दिक जल्द ही BJP ज्वाइन कर सकते हैं.

इसे भी पढें- ज्ञानवापी पर बोले ओवैसी- निचली अदालत के आदेशों पर रोक लगाएगी हाईकोर्ट… 

Leave a comment

Your email address will not be published.

fifteen − 11 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
नया नाम, पुराने सवाल
नया नाम, पुराने सवाल