nayaindia Corona Vaccination: नेपाल में चीन से आये कोरोना के टीके से शुरु होगा टीकाकरण का दूसरा चरण , पहले चरण के लिए भारत ने उपलब्ध कराई थी वैक्सीन - Naya India
kishori-yojna
देश| नया इंडिया|

Corona Vaccination: नेपाल में चीन से आये कोरोना के टीके से शुरु होगा टीकाकरण का दूसरा चरण , पहले चरण के लिए भारत ने उपलब्ध कराई थी वैक्सीन

New Delhi: कोरोना वायरस से पूरी दुनिया परेशान है. कई देशों में लगातार कोरोना के बढ़ते मामलों के साथ ही कोरोना का टीका भी लगाया जा रहा है. इसके बाद भी कोरोना के बढ़ते मामलों में लगाम नहीं लग रही है. भारत के पड़ोसी देश नेपाल (Nepal) में भी कोरोना संक्रमण से लड़ने के लिए चीन (China) की तरफ से दान किए गए टीके का इस्तेमाल किया जाएगा. इस संबंध मे नेपाल सरकार की ओर से जानकारी साझा की जा चुकी है. 7 अप्रैल से कोविड-19 टीकाकरण अभियान का नेपाल में दूसरा चरण (Socend Phase) शुरू होगा.

बता दें कि नेपाल में पहले चरण के टीकाकरण अभियान में भारत की ‘पड़ोसी पहले’ नीति के अनुरूप अनुदान सहायता के तहत टीका मुहैया कराया गया था. उस समय ऑक्सफोर्ड एस्ट्राजेनेका टीके की 10 लाख खुराकें नेपाल को दी गई थी. इस संबंध में स्वास्थ्य एवं जनसंख्या मंत्रालय के प्रवक्ता डॉ. जोगेश्वर गौतम (Spokesperson of the Ministry of Population) ने बताया कि दूसरा चरण बुधवार, सात अप्रैल से शुरू होगा. चीन निर्मित टीके- वेरो सेल की 8,00,000 खुराक अग्रिम मोर्चे के कर्मियों के साथ-साथ पर्वतीय क्षेत्र में हिमालय पार की व्यापार गतिविधियों में शामिल कर्मियों को दी जाएगी.

इसे भी पढ़ें – उतराखंड आग सीएम रावत ने केंद्र से मांगी मदद , हालात अभी भी भयावह

चीन में पढ़ाई करने वाले विद्यार्थियों को मिलेगी प्राथमिकता

गौतम ने बताया कि छात्रवृत्ति योजनाओं (Scholarship Scheme) के तहत चीन में पढ़ रहे नेपाली विद्यार्थियों और आगे पढ़ाई के लिए चीन जाने की तैयारी कर रहे विद्यार्थियों को भी यह चीनी टीका लगाया जाएगा.उन्होंने बताया, “टीकाकरण के लिए लक्षित कुल 9,00,000 लोगों में से करीब 5,00,000 लोगों को पहले ही कोविड-19 का टीका लग चुका है. चीन की ओर से दान की गईं ये 8,00,000 खुराकें लक्षित समूह के शेष बचे 4,00,000 लोगों को दी जाएंगी.”

18 फरवरी को मिली थी स्वीकृति

इसे भी पढ़ें – Rafale Deal: फ्रेंच रिपोर्ट में दावा- भारतीय बिचौलिये को ‘गिफ्ट’ किए गए एक मिलियन यूरो

नेपाल ने चीन के बीजिंग इंस्टीट्यूट ऑफ बायोलॉजिकल प्रोडक्ट्स (Beijing Institute of Biological Products) द्वारा इस साल 18 फरवरी को तैयार कोरोना वायरस के टीके वेरो सेल के प्रयोग को सशर्त आपात स्वीकृति दी है.अमेरिका की जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के आंकड़ों के मुताबिक नेपाल में कोरोना वायरस के 2,77,944 मामले हैं और इस बीमारी से 3,032 लोगों की मौत हुई है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

two × three =

kishori-yojna
kishori-yojna
ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
एलआईसी के मुद्दे पर लोकसभा में भारी हंगामा
एलआईसी के मुद्दे पर लोकसभा में भारी हंगामा