nayaindia Delhi Highcourt Wine News : नहीं मिलेगा 'क्वार्टर और पउवा' तो गरीब कैसे पिएगा
ताजा पोस्ट | देश | दिल्ली| नया इंडिया| Delhi Highcourt Wine News : नहीं मिलेगा 'क्वार्टर और पउवा' तो गरीब कैसे पिएगा

Delhi Highcourt : नहीं मिलेगा ‘क्वार्टर और पउवा’ तो गरीब कैसे पिएगा, हाईकोर्ट पहुंचा मामला…

Delhi Highcourt Wine News :

नई दिल्ली । Delhi Highcourt Wine News : दिल्ली सरकार में शराब बिक्री की नई नीति पर कई याचिकाएं दायर की गई हैं. अलग-अलग याचिकाओं में एक याचिका वकील अरुण मोहन की भी है. इस याचिका में कहा गया है कि नई नीति से युवाओं पर बहुत बुरा फर्क पड़ने वाला है. कहा गया है कि शराब पीने की कानूनी उम्र को कम कर अच्छा नहीं किया गया इससे समाज पर बुरा असर पड़ेगा. इस याचिका में यह भी कहा गया है कि सब टैक्स से होने वाली कमाई को ध्यान में रखने के लिए इस तरह की नीति लाई गई है. बता दें कि आबकारी नीति बुधवार से देश की राजधानी दिल्ली में लागू कर दी जाएगी.

Delhi Highcourt Wine News :

शराब पीने के लिए करती है प्रोत्साहित

Delhi Highcourt Wine News : याचिकाकर्ता ने दिल्ली हाईकोर्ट में गुहार लगाई है कि दिल्ली सरकार की नई शराब बिक्री नीति शराब पीने के लिए प्रोत्साहित करती है. उन्होंने कहा कि सरकार को कम से कम इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि इसका युवाओं पर क्या असर पड़ने वाला है. याचिकाकर्ताओं के लंबे मामले देखते हुए दिल्ली हाईकोर्ट ने अब सभी सुनवाई सोमवार तक के लिए स्थगित कर दी है.

इसे भी पढ़ें-Farm law के बाद अब MSP पर भी झुकी सरकार, 5 प्रतिनिधियों के मांगे नाम…

गरीब के बस की नहीं शराब

Delhi Highcourt Wine News : एक अन्य याचिकाकर्ता ने कोर्ट में सवाल उठाया है कि दिल्ली सरकार की नीति में कई खोट है. याचिकाकर्ता ने कहा कि इस नई नीति के तहत अब राजधानी में क्वार्टर या पउवा नहीं मिलेगा. याचिकाकर्ता ने कहा कि गरीब जनता इससे ज्यादा एक बार में खरीद नहीं सकती ऐसे में यह गरीब शराबियों के लिए शर्मनाक बात होगी. याचिकाकर्ता का कहना है कि ऐसे में तो गरीब आदमी तो शराब पी नहीं सकेगा. बता दें कि दिल्ली में शराब की बिक्री अब निजी हाथों में दे दी गई है और कई नीतियां भी बदली गई हैं. जिसके बाद नीतियों के खिलाफ लोग कोर्ट पहुंच रहे हैं.

इसे भी पढ़ें- Jharkhand Police को बड़ी कामयाबी, भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद, नारियालों से ढक कर ले जाया जा रहा था

Leave a comment

Your email address will not be published.

nine − five =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
मध्य प्रदेश की दावेदारी में भी है दम
मध्य प्रदेश की दावेदारी में भी है दम