दिल्ली: भाजपा ने बिधूड़ी को दी नेता प्रतिपक्ष की कमान

नई दिल्ली। दिल्ली विधानसभा में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) विधायक रामवीर सिंह बिधूड़ी नेता प्रतिपक्ष होंगे। भाजपा के दिल्ली प्रदेश कार्यालय पर आज सुबह दस बजे हुई बैठक में पार्टी के सभी विधायकों ने आम सहमति से उन्हें विधायक दल का नेता चुना।

मुख्य विपक्षी पार्टी के विधायक दल का नेता ही विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष होता है। बिधूड़ी की पहचान दिल्ली के प्रभावी गुर्जर नेता की रही है। राजनीतिक सफर पर नजर डालें तो रामवीर सिंह बिधूड़ी चार बार विधायक रह चुके हैं।

यूं तो उन्होंने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के छात्र संगठन एबीवीपी से राजनीति शुरू की, मगर कई पार्टियों से होते हुए वे भाजपा की मुख्यधारा में पहुंचे। वह पहली बार 1993 में जनता दल के टिकट पर विधायक बने थे, फिर 2003 में शरद पवार की राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) में शामिल होकर दूसरी बार विधानसभा चुनाव जीते।

वर्ष 2012 में वह भाजपा में शामिल हुए और 2013 का विधानसभा चुनाव जीतकर तीसरी बार विधायक बने। वे आम आदमी पार्टी (आप) की लहर में 2015 का विधानसभा चुनाव हार गए, लेकिन फिर 2020 के विधानसभा चुनाव में भाजपा से जीतने में सफल रहे।

भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव सरोज पांडेय की मौजूदगी में सोमवार को पार्टी के प्रदेश कार्यालय पर हुई बैठक में उन्हें भाजपा के विधायक दल का नेता चुना गया। पार्टी के अन्य सात विधायकों ने उनके नाम पर सहमति जाहिर की थी। पिछली बार विजेंद्र गुप्ता नेता प्रतिपक्ष थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares