Delhi High Court ने केंद्र से पूछा- मध्यप्रदेश और महाराष्ट्र को मांग से ज्यादा ऑक्सीजन तो दिल्ली को कम क्यों?

Must Read

नई दिल्ली | कोरोना महामारी (Corona Epidemic) के बीच ऑक्सीजन (Oxygen) को लेकर खींचतान चल रही है अस्पतालों में ऑक्सीजन (Oxygen) की कमी चल रही है ऑक्सीजन (Oxygen) को लेकर दिल्ली उच्च न्यायालय (Delhi High Court) ने केंद्र सरकार (Central Government) से आज पूछा कि मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र को मांग से ज्यादा ऑक्सीजन (Oxygen) क्यों मिल रही है जबकि दिल्ली (Delhi) का आवंटन आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) की सरकार के आग्रह के हिसाब से बढ़ाया नहीं गया है।

न्यायमू्र्ति विपिन सांघी और न्यायमूर्ति रेखा पल्ली की पीठ ने केंद्र से यह सवाल पूछा। पीठ ने सुनवाई के दौरान कहा कि केंद्र सरकार (Central Government) को या तो इससे उचित ठहराना होगा या अब जब स्थिति उसके सामने आई है तो इसमें ‘सुधार’ करना होगा।

इसे भी पढ़ें – Corona Crisis:  ब्रिटेन ने कहा हमारे हालात ऐसे नहीं कि भारत को भेज सकें कोरोना की वैक्सीन

सॉलीसीटर जनरल तुषार मेहता ने कहा कि केंद्र सरकार अदालत के सवाल पर जवाब देगी और मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र को अधिक ऑक्सीज (Oxygen) देने का कारण बताएगी। मेहता ने कहा, “ऐसे राज्य हैं जिन्हें मांग से कम आपूर्ति की गई है। हम इसकी तर्कसंगत व्याख्या करेंगे।

वरिष्ठ अधिवक्ता राहुल मेहरा ने अदालत के समक्ष एक सूची रखी जिसमें विभिन्न राज्यों द्वारा की गई ऑक्सीजन (Oxygen) की मांग और उन्हें की गई आपूर्ति का ब्यौरा था। उन्होंने कहा कि केवल दिल्ली को उतनी मात्रा नहीं मिली है जितनी उसने मांगी है जबकि अन्य को उनकी मांग जितना या उससे ज्यादा मिल रहा है। अदालत ऑक्सीजन संकट और कोविड-19 वैश्विक महामारी से जुड़े अन्य मामलों को लेकर दायर कई याचिकाओं पर सुनवाई कर रही थी।

इसे भी पढ़ें – Corona Fear: किया आगाह, कहा- तीसरी लहर के लिए अभी से रहें तैयार, बेड और ऑक्सीजन ही नहीं मेडिकल स्टॉफ की भी होगी भारी कमी

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

साभार - ऐसे भी जानें सत्य

Latest News

‘चित्त’ से हैं 33 करोड़ देवी-देवता!

हमें कलियुगी हिंदू मनोविज्ञान की चीर-फाड़, ऑटोप्सी से समझना होगा कि हमने इतने देवी-देवता क्यों तो बनाए हुए हैं...

More Articles Like This