nayaindia train woman labor delivery pain transgender ट्रेन में किन्नरों ने कराई महिला की डिलीवरी
kishori-yojna
देश | दिल्ली | समाचार मुख्य | विविध समाचार| नया इंडिया| train woman labor delivery pain transgender ट्रेन में किन्नरों ने कराई महिला की डिलीवरी

ट्रेन में किन्नरों ने कराई महिला की डिलीवरी

नई दिल्ली। ट्रेन में महिला को प्रसव पीड़ा (labor pain) हो रही थी लेकिन किसी महिला यात्री (female passenger) ने नहीं की बल्कि किन्नरों के एक ग्रुप ने डिलीवरी कराई। विडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। ट्रेन की बॉगी में किन्नरों की संख्या होने पर दूसरे यात्री उन्हें भगाने लगते हैं। लेकिन इन किन्नरों ने इस बार दरियादिली मिसाल कायम की है। बिहार के जमुई जि़ले के किन्नरों की दरियादिली का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। किन्नरों की ममता देखने के बाद लोग उनके पहल की काफी सराहना कर रहे हैं।

दरअसल बिहार के जमुई जिले के झाझा-जसीडीह रेल खंड में ट्रेन यात्रा के दौरान एक महिला को अचानक प्रसव पीड़ा होने लगी। जानकारी के अनुसार हावड़ा जनशताब्दी एक्सप्रेस डी 5 कोच में शेखपुरा जिले की रहने वाली महिला यात्री सफर कर रही थी। लखीसराय जाने के दौरान ट्रेन जैसे ही जसीडीह रेलवे स्टेशन से खुली तो महिला को दर्द होने लगा।

आसपास के लोग अभी कुछ समझ नहीं पा रहे थे कि क्या किया जा सकता है। ट्रेन में कई महिला सहयात्री भी मौजूद थीं लेकिन उन्हें भी कुछ नहीं सूझ रहा था। वो कुछ करतीं इससे पहले ही किन्नरों ने पहल करते हुए ट्रेन में ही महिला की डिलीवरी करवा दी। जैसे ही उन किन्नरों ने महिला को दर्द में देखा, वे बिना वक्त गंवाए उसे बाथरूम लेकर गई और वहां सुरक्षित प्रसव कराया। महिला ने एक स्वस्थ्य बच्चे को जन्म दिया है। इसके बाद सभी किन्नरों ने नवजात बेटे को गोद में लेकर आशीर्वाद दिया। महिला के बेटे को जन्म देने पर किन्नरों में खुशी का माहौल देखने को मिला।

इतना ही नहीं किन्नरों ने कहा महिला और बच्चे को डॉक्टर से दिखा लें। अगर आप लोगों के पास पैसे नहीं हैं तो हम लोगों से ले लीजिए। इसके बद सभी किन्नर झाझा रेलवे स्टेशन पर ट्रेन से उतर गए। ट्रेन में मौजूद एक यात्री ने किन्नरों की दरियादिली का यह वीडियो रिकॉर्ड कर लिया और उसे वायरल कर दिया। (आईएएनएस)

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

seven + eleven =

kishori-yojna
kishori-yojna

और पढ़ें

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
संविधान के मूल ढाँचे की व्यर्थ बहस
संविधान के मूल ढाँचे की व्यर्थ बहस