सीलमपुर हिंसा: उत्तर पूर्वी जिले में धारा-144 लागू

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधान कानून के विरोध में मंगलवार को कई घंटे हुए हिंसक प्रदर्शन के बाद दिल्ली पुलिस ने उत्तर-पूर्वी जिले में आज  धारा-144 लागू कर दी है। धारा-144 लागू होने के बाद से इलाके में चार या इससे अधिक संख्या में लोग एक जगह इकट्ठे नहीं हो सकेंगे। यह कदम पुलिस ने एहतियातन उठाया है, ताकि फिर किसी बबाल की कहीं कोई योजना न बनाई जा सके। विरोध प्रदर्शन के चलते दिल्ली के कई इलाकों में ट्रैफिक जाम की समस्या पैदा हो गई है। जाम से बचने के लिए दिल्ली पुलिस ने अपने ट्विटर हैंडल पर बाकायदा सलाह जारी किए हैं।

उत्तर पूर्वी दिल्ली जिले में धारा 144 लागू किए जाने की पुष्टि दिल्ली पुलिस प्रवक्ता अनिल मित्तल ने कहा, धारा 144 लागू करने की प्रमुख वजह शांति व्यवस्था बनाए रखना है। इसके लागू होने से इलाके में लोगों की भीड़ जगह-जगह इकट्ठा नहीं होगी। अगर धारा-144 वाले इलाके में कहीं फिर भी कुछ लोग एकत्रित पाए या देखे गए तो उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई के लिए पुलिस स्वतंत्र है।

इसे भी पढ़ें :- जामिया हिंसा की जांच पर सुनवाई करेगी दिल्ली हाईकोर्ट

उल्लेखनीय है कि यह कदम मंगलवार को जिले में हुए हिंसक विरोध प्रदर्शन के बाद उठाया गया है। दूसरी ओर मंगलवार को दिन में उपद्रव मचाने वालों की धरपकड़ के लिए रात भर पुलिस की टीमें इलाके में छापेमारी करती रहीं। कुछ लोगों को हिरासत में भी लिया गया है। इसके साथ ही पुलिस ने सीलमपुर और जाफराबाद थाने के बाद एक तीसरी एफआईआर भी देर रात दर्ज की है। यह एफआईआर ब्रिजपुरी थाने में दर्ज की गई है।

मंगलवार-बुधवार की रात पुलिस की टीमें इलाके की गली-गली में गश्त करती रहीं। बुधवार सुबह वेलकम, सीलमपुर, शास्त्री पार्क, जाफराबाद, सीमापुरी आदि इलाकों में जन-जीवन सामान्य देखने को मिला। बुधवार सुबह इलाके में पहुंची टीम ने मंगलवार को हुए बबाल की चर्चा भी इलाके के गली-मुहल्लों में होती देखी-सुनी। पुलिस की गश्त संवेदनशील और प्रभावित इलाकों में बुधवार सुबह भी होती देखी गई। पुलिस की कोशिश है कि जन-जीवन जल्द से जल्द सामान्य हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares