nayaindia Deoghar Ropeway Accident :
देश | झारखंड| नया इंडिया| Deoghar Ropeway Accident :

झारखंड के देवघर में दो दिनों से हवा में झूलती जिंदगियों को बचाने के लिए मशक्कत जारी, अब तक 42 लोगों का रेस्क्यू

देवघर | Deoghar Ropeway Accident :  झारखंड के देवघर में हुए रोपवे हादसे के खौफनाक मंजर ने लोगों के होश उड़ा दिए है। रविवार को हुए इस हादसे के बाद अभी तक भी कई लोग जिंदगी और मौत के बीच हवा में झूल रहे हैं। जिन्हें बचाने का कार्य लगातार जारी है। अब इस रेस्क्यू में सेना भी उतर चुकी हैं और सैन्य हेलीकॉप्टरों की मदद से लोगों को बचाया जा रहा है। इस दौरान राहत बचाव कार्य जारी रखते हुए अब तक 42 लोगों का रेस्क्यू किया जा चुका है लेकिन अभी भी 6 लोगों की जान हवा में झूलते तारों पर लटकी हुई है। लोग उनके सकुशल वापस लौटे की दुआएं कर रहे हैं। सेना और प्रशासन लगातार लोगों को बचाने में लगी हुई है। मंगलवार सुबह भी 9 लोगों को बचाया गया जिनमें एक बच्चा भी शामिल है। आपको बता दें कि, इन रोपवेट्रॉलियों के जरिए हर रोज सैकड़ोंकी सख्ंया में श्रद्धालु यहां पहुंचते हैं। इस हादसे में रेस्क्यू ऑपरेशन के दौरान एक व्यक्ति हेलिकॉप्टर से गिरकर भी मौत हो गई।

ये भी पढ़ें:- देश में कोरोना से राहत! आज सामने आए 796 नए मामले, एक्टिव केस घटकर हुए 10,889

लोगों को पहुंचाई गई खाने-पीने की चीजें
Deoghar Ropeway Accident : आपको बता दें कि, बीते रविवार को रोपवे में तकनीकी खराबी के चलते एकसाथ 12 ट्रॉलियां आपस में टकरा गई थी। इस हादसे में अब तक 3 लोगों की मौत हो चुकी हैं और कई लोग घायल हो गए हैं। ये हादसा देेवघर स्थित त्रिकुट पर्वत पर हुआ जहां हर समय श्रद्धालुओं के भीड़ रहती है। जानकारी में सामने आया है कि, ये हादसा तब हुआ जब अचानक रोप-वे के केबल पर लोड बढ़ गया और एक रोलर टूट गया। जिससे कई ट्रॉलियां आपस में टकरा गईं। इसके बाद ट्रॉलियों में मौजूद लोग हवा में ही तारों पर लटकी ट्रॉलियों में झूल गए। जिसके बाद से लोगों को बचाने के लिए प्रशासन लगातार मशक्कत कर रहा है। रेस्क्यू टीम लोगों को खाने-पीने की चीजें पहुंचाई जा रही है।

ये भी पढ़ें:-  देश में बढ़ती महंगाई के बीच जानें आज पेट्रोल-डीजल के दाम

ब्लैक लिस्टेड होगी रोप-वे चलाने वाली एजेंसी
Deoghar Ropeway Accident : रोपवे हादसे को लेकर झारखंड सरकार काफी सख्त हो गई है। सरकार कहा है कि, इस हादसे की पूरी जांच करवाई जाएगी और दोषियों को सख्त से सख्त सजा दी जाएगी। हादसे को लेकर पर्यटन मंत्री का कहना है कि रोप-वे चलाने वाली एजेंसी को ब्लैक लिस्टेड किया जाएगा। आपको बता दें कि, देवघर के त्रिकुट पर्वत पर रोपवे हादसे में फंसे लोगों को बचाने में इंडियन एयरफोर्स, इंडियन आर्मी, एनडीआरएफ, आईटीबीपी एवं स्थानीय प्रशासन की टीम लगातार रेस्क्यू में हुई है।

ये भी पढ़ें:- बड़ा हादसा! आंध्र प्रदेश में 6 लोगों को कोणार्क एक्सप्रेस ने लिया चपेट में, मौके पर ही मौत, कई घायल

Leave a comment

Your email address will not be published.

20 − four =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
ट्रक की चपेट में आने से तीन मरे, 12 घायल
ट्रक की चपेट में आने से तीन मरे, 12 घायल