Gujara Covid Hospital fire breaks:भरूच के कोरोना अस्पताल में लगी आग, अब तक 18 लोगों की मौत की पुष्टि - Naya India
ताजा पोस्ट | देश| नया इंडिया|

Gujara Covid Hospital fire breaks:भरूच के कोरोना अस्पताल में लगी आग, अब तक 18 लोगों की मौत की पुष्टि

Bharuch: गुजरात के भरूच में देर रात एक निजी अस्पताल के आईसीयू में आग लग जाने से कई लोगों की मौत हो गई. जानकारी के अनुसार अब तक 18 लोगों के मौत की सूचना मिल चुकी है. अनुमान लगाया जा रहा है कि मरने वालों की संख्या में और भी बढोतरी हो सकती है. आगलगी से मरने वालों में दो अस्पताल कर्मी भी शामिल हैं.  अस्पताल में आग लगने की खबर के बाद से मरीजों के परिजनों की अस्पताल के बाहर भीड़ जमा हो गई इस कारण राहत कार्य में लगी पुलिस और फ़ायर ब्रिगेड की टीम  को भी काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. फिलहाल आग के लगने का कारण पूरी तरह स्पष्ट नहीं है.  लेकिन अस्पताल के कुछ कर्मचारियों का कहना है कि आग लगने का कारण सम्भवतः शॉर्ट सर्किट हो सकता है.

आग लगने की खबर पाकर पुलिस और फ़ायर ब्रिगेड की टीम ने बचाव कार्य

आग लगने की सूचना पाकर पुलिस भी दलबल के साथ मौके पर पहुंच गई. इसके बाद पुलिस के जवानों ने अपने स्तर पर राहत और बचान कार्य शुरू कर दिया.  आग की सूचना मिलते ही स्थानीय फ़ायर ब्रिगेड की टीम तुरंत हरकत में आ गयी. पुलिस और फ़ायर ब्रिगेड की टीम के संयुक्त प्रयासों से आग पर काफी मशक्कत के बाद काबू पा लिया गया. इस संबंध में पुलिस ने बताया कि  भरूच- जंबुसर बायपास रोड पर स्थित पटेल वेल्फ़ेयर हॉस्पिटल में यह घटना हुई.  मध्यरात्रि के बाद लगभग साढ़े 12 बजे इसके दो में से एक आईसीयू में । कई मरीज़ों को अन्य अस्पतालों में स्थांतरित किया गया.  उनमें से कई की हालत नाज़ुक बताई जाती है.  सूत्रों ने बताया कि कुछ मरीज़ों की मौत स्थानांतरण के दौरान हुई हो सकती है.

इसे भी पढें- Corona Fight: इस कारण भी बढ़ रही है कोरोना संक्रमितों की संख्या, कहीं आप भी तो जिम्मेवार नहीं ?

गुजरात में ये आगलगी की तीसरी बड़ी धटना

देश में एक ओर तो कोरोना का कहर है. वहीं दूसरी ओर लोगों की आक्समिक मौतें भी परेशानी की सबब बनती जी रही है. बता दें कि  इससे पहले भी कोरोना संकट के दौरान गुजरात के अहमदाबाद, राजकोट में ऐसी घटनाओं में कई मरीज़ों की मौत हो गयी थी.  इन मामलों में भा आग लगने के कारणों का पता नहीं चल सका था. बाद में शॉर्ट सर्किट को ही आग लगने का कारण बताकर मामले को रफा दफा कर दिया गया था.  जो भी हो कोरोना के संकट के बीच कोविड अस्पतालों में हो रही आकस्मिक मौतों से परिजनों में आक्रोश है.

इसे भी पढें-  Red Alert Curfew in Rajasthan : राजस्थान में 17 मई तक ‘रेड अलर्ट’ कर्फ्यू, शादी में सिर्फ 31 मेहमानों की अनुमति, देनी होगी अतिथियों के नाम की लिस्ट

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *