केशुभाई पटेल का निधन

गांधीनगर। गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता केशुभाई पटेल का आज सुबह 92 वर्ष की उम्र में निधन हो गया। अहमदाबाद के अस्पताल में उनका इलाज चल रहा था।

सांस लेने में कठिनाई होने पर उन्हें गुरुवार सुबह अस्पताल में भर्ती कराया गया था और इलाज के दौरान ही उनका निधन हो गया। सूत्रों ने बताया कि पिछले महीने उनका कोविड-19 परीक्षण पॉजिटिव आया था।

पटेल 1995 में और फिर 1998 से 2001 तक दो बार गुजरात के मुख्यमंत्री रहे। 2001 में नरेन्द्र मोदी उनकी जगह पर मुख्यमंत्री बने थे। पटेल 6 बार विधायक रहे। पटेल के मोदी के साथ अच्छे संबंध थे, फिर भी उन्होंने 2012 में गुजरात परिवर्तन पार्टी नाम से अलग पार्टी बनाई, जिसका 2014 में भाजपा में विलय हो गया था।

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने केशुभाई के निधन पर शोक व्यक्त किया और कहा, आदरणीय केशुभाई पटेल ने गुजरात में भाजपा को पाल पोसकर बरगद के पेड़ की तरह फैलाया। उन्होंने देश के लिए अपना पूरा जीवन दे दिया। किसान के बेटे के तौर पर किसानों के लिए कई काम किए।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी पटेल के निधन पर शोक जताते हुए कहा,  केशुभाई पटेल जी एक प्रभावी प्रशासक थे जिन्होंने सार्वजनिक जीवन में अमिट छाप छोड़ी। मैं दिवंगत नेता को श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं। दुख की इस घड़ी में मैं उनके परिवार और शुभचिंतकोंके प्रति संवेदनाएं व्यक्त करता हूं। सिंह ने कहा कि लोगों की सेवा के लिए केशुभाई पटेल की अटूट प्रतिबद्धता को हमेशा याद किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares