nayaindia Wilfred D'Sa left BJP:  निर्दलीय चुनाव लड़ने के लिए विल्फ्रेड ने तोड़ा भाजपा से नाता
ताजा पोस्ट | देश| नया इंडिया| Wilfred D'Sa left BJP:  निर्दलीय चुनाव लड़ने के लिए विल्फ्रेड ने तोड़ा भाजपा से नाता

निर्दलीय चुनाव लड़ने के लिए गोवा में विधायक विल्फ्रेड ने तोड़ा भाजपा से नाता

नई दिल्ली | Wilfred D’Sa left BJP: गोवा में विधानसभा चुनाव 2022 से पहले भारतीय जनता पार्टी को जोरदार झटका देते हुए विधायक विल्फ्रेड ने गोवा विधानसभा की सदस्यता के साथ ही पार्टी से भी अपना इस्तीफा सौंप दिया है। विधायक विल्फ्रेड को गोवा की राजनीति में काफी अहम स्थान माना जाता है। ऐसे में चुनावों से पहले भाजपा के लिए ये नई परेशानी सामने आ गई है।

ये भी पढ़ें:- अब उत्तराखंड में बदल सकती है मतदान की तारीख, पंजाब में चुनाव आयोग पहले ही कर चुका बदलाव

मैं भाजपा के टिकट पर 2022 का चुनाव नहीं लड़ूंगा
Wilfred D’Sa left BJP: भाजपा को अलविदा कहते हुए उन्होंने कहा कि, मैंने पहले ही पार्टी को अपने फैसले के बारे में अवगत करा दिया था। मैंने पार्टी को बता दिया था कि अब मैं भाजपा के टिकट पर 2022 का चुनाव नहीं लड़ूंगा। उन्होंने भाजपा की ओर से विधानसभा चुनावों के लिए उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी किए जाने से पहले ही पार्टी का साथ छोड़ दिया।

ये भी पढ़ें:- सीएम केजरीवाल का पंजाब सीएम चन्नी पर घातक प्रहार, कहा- चन्नी आम आदमी नहीं, बेईमान आदमी है

अब होंगे निर्दलीय उम्मीदवार
भाजपा का साथ छोड़ने के बाद विल्फ्रेड ने कहा कि, मैंने आगामी चुनाव निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में लड़ने के लिए राज्य विधानसभा के साथ-साथ भाजपा से भी इस्तीफा दे दिया है। चुनाव आयोग ने गोवा में एक ही चरण में विधानसभा चुनाव 2022 संपन्न कराने का फैसला लिया है। ऐसे में गोवा में 14 फरवरी को मतदान होगा और 10 मार्च को नतीजे घोषित किए जाएंगे।

कांग्रेस से निकलकर आए थे भाजपा में
2017 में कांग्रेस के टिकट पर चुनाव जीते थे विल्फ्रेड
आपको बता दें कि, विल्फ्रेड ने साल 2017 में कांग्रेस के टिकट पर नुवेम विधानसभा सीट से चुनाव जीता था, लेकिन 2019 में उन्होंने कांग्रेस से बगावत करते हुए कई अन्य विधायकों के साथ कांग्रेस का हाथ छोड़ दिया और भाजपा में शामिल हो गए।

Leave a comment

Your email address will not be published.

four × one =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
MI Vs SRH : लगातार 5 जीत के बाद 5 लगातार हार, अब हारे तो होना होगा बाहर…
MI Vs SRH : लगातार 5 जीत के बाद 5 लगातार हार, अब हारे तो होना होगा बाहर…