gurmeet raam rahim : रणजीत सिंह हत्याकांड में गुरमीत राम रहीम सिंह दोषी करार
देश | हरियाणा| नया इंडिया| gurmeet raam rahim : रणजीत सिंह हत्याकांड में गुरमीत राम रहीम सिंह दोषी करार

19 साल पुराने केस रणजीत सिंह हत्याकांड में गुरमीत राम रहीम सिंह दोषी करार

gurmeet raam rahim

नई दिल्ली: गुरमीत राम रहीम वैसे तो दुष्कर्म मामले में सजा काट ही रहा है लेकिन अब एक और केस में गुरमीत को दोषी करार दिया गया है। डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को शुक्रवार 8 अक्टूबर को रणजीत सिंह हत्याकांड में दोषी करार दिया गया है। पंचकूला में एक विशेष केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) अदालत ने रंजीत सिंह की हत्या के मामले में राम रहीम सिंह और चार अन्य आरोपियों को दोषी ठहराया। राम रहीम के समर्थक रणजीत सिंह की 10 जुलाई 2002 को हत्या कर दी गई थी। 3 दिसंबर 2003 को सीबीआई ने हत्या के मामले में प्राथमिकी दर्ज की थी। ( gurmeet raam rahim )

also read: Air Force Day : भारतीय वायुसेना का 89वां स्थापना दिवस आज, 1971 के युद्ध नायकों की स्मृति में फ्लाईपास्ट

दुष्कर्म के मामले में 20 साल जेल की सजा काट रहा रामरहीम

सीबीआई की विशेष अदालत 12 अक्टूबर को सभी दोषियों की सजा का ऐलान करेगी। गुरमीत राम रहीम सिंह अपनी दो महिला शिष्यों से दुष्कर्म के मामले में 20 साल जेल की सजा काट रहा है। उन्हें अगस्त 2017 में पंचकूला में सीबीआई की विशेष अदालत ने दोषी ठहराया था। पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय ने इस सप्ताह पंचकूला में सीबीआई अदालत से राम रहीम सिंह के खिलाफ हत्या के मुकदमे को किसी अन्य सीबीआई अदालत में स्थानांतरित करने की मांग वाली याचिका को खारिज कर दिया था।

2019 में डेरा प्रमुख को पत्रकार रामचंद्र छत्रपति की हत्या का दोषी ठहराया ( gurmeet raam rahim )

इस साल सितंबर में पंजाब पुलिस ने डेरा सच्चा सौदा प्रमुख को 2015 में गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी के मामले में क्लीन चिट देने की खबरों का खंडन किया था। बुर्ज जवाहर सिंह वाला गुरुद्वारा से गुरु ग्रंथ साहिब की एक ”बीर” (प्रतिलिपि) की चोरी से संबंधित एक मामले में उन्हें एक आरोपी के रूप में नामित किया गया था। 2019 में, डेरा सच्चा सौदा प्रमुख और तीन अन्य को पत्रकार रामचंद्र छत्रपति की हत्या का दोषी ठहराया गया था। छत्रपति ने राम रहीम सिंह द्वारा अपने आश्रम में महिलाओं के यौन शोषण के बारे में एक गुमनाम पत्र प्रकाशित किया था। ( gurmeet raam rahim )

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
Assembly Election 2022: चुनावी घमासान में कोरोना ने लगाया ब्रेक! 22 जनवरी तक रैलियों पर रोक
Assembly Election 2022: चुनावी घमासान में कोरोना ने लगाया ब्रेक! 22 जनवरी तक रैलियों पर रोक