Mother Daughter With Rotten Body : महिलाओं की मानसिक स्थिति पर है शक...
देश | पश्चिम बंगाल| नया इंडिया| Mother Daughter With Rotten Body : महिलाओं की मानसिक स्थिति पर है शक...

कोलकाता : 45 दिन पहले हो गई थी पति की मौत ,लेकिन सड़े-गले शव के साथ सामान्य जीवन जी रही थी मां- बेटी

Mother Daughter With Rotten Body :

कोलकाता | Mother Daughter With Rotten Body : पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता से एक अजीबो गरीम मामला सामने आया है. कोलकाता के रॉबिन्सन स्ट्रीट में एक महिला और उसकी बेटी को उसके 78 वर्षीय पति के सड़े-गले शव के साथ रहते हुए पाया गया. इस बात की खबर पड़ोसियों को मिलने के बाद लोगों ने पुलिस को इसकी सूचना दी. पड़ोसियों का कहना है कि हमें कई दिनों तक को कुछ पता नहीं चला लेकिन इस बात खुलासा तब हुआ जब जब बागबाजार क्षेत्र में स्थित उनके घर से भीषण दुर्गंध उठने लगी. पड़ोसियों द्वारा पुलिस को खबर देने के बाद पुलिस ने मंगलवार देर रात को जांच की तो पाया कि दोनों महिलाएं, 78 वर्षीय दिग्विजय घोष के सड़े-गले शव के साथ रह रही थीं.

Mother Daughter With Rotten Body :

मौत का कारण अभी स्पष्ट नहीं

Mother Daughter With Rotten Body : श्यामपुकुर पुलिस थाने के एक अधिकारी ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि मृतक का नाम दिग्विजय घोष था. पुलिस ने बताया कि वह कम से कम डेढ़ महीने पहले मर चुका था. शव पूरी तरह सड़-गल चुका था और कंकाल बाहर दिख रहा था. पुलिस का कहना है कि अभी मौत का कारण स्पष्ट नहीं है. हमने शव को पोस्ट मॉर्टम के लिए भेज दिया है. हम मृतक की पत्नी और उसकी बेटी से पूछताछ कर रहे हैं . उक्त दोनों महिलाओं ने पुलिस को अंदर आने से रोका था. वह सामान्य जीवन जी रही थीं जबकि शव उसी कमरे में बिस्तर पर पड़ा हुआ था.

इसे भी पढें- 125 साल पहले शुरु हुए ओलंपिक में पहली बार के विजेताओं को नहीं दिया कोई गोल्ड पदक, आधुनिक ओलंपिक में एक भी महिला खिलाड़ी नहीं थी..

Mother Daughter With Rotten Body :

पुलिस को महिलाओं की मानसिक स्थिति पर है शक

पुलिस यह भी पता लगाने का प्रयास कर रही है कि कहीं दोनों महिलाएं मानसिक रूप से अस्वस्थ तो नहीं हैं. पुलिस ने बताया कि दरवाजे और खिड़कियां बंद थे और किसी को घर के भीतर आने नहीं दिया जाता था. मृतक की बेटी अपने पति के साथ नहीं रहती थी और कुछ सालों से अपने माता पिता के यहां रह रही थी. पुलिस मामले की जांच कर रही हैं. इस घटना ने रॉबिन्सन स्ट्रीट की यादें ताजा कर दी हैं जिसमें सॉफ्टवेयर इंजीनियर पार्थ डे नामक व्यक्ति ने अपनी बहन देवजानी डे के कंकाल के साथ छह महीने गुजारे थे.

इसे भी पढें- इस सीएम ने किया सिंधिया पर बड़ा हमला कहा- एयर इंडिया और ज्योतिरादित्य सिंधिया दोनों ही बिकाऊ

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
काल बना कोरोना: देश में एक दिन में ढाई लाख से अधिक मरीज, दिल्ली में हालात गंभीर
काल बना कोरोना: देश में एक दिन में ढाई लाख से अधिक मरीज, दिल्ली में हालात गंभीर