Jammu Kashmir में जल्द चुनाव, PM मोदी ने कहा- लोकतंत्र को करना है मजबूत
देश | जम्मू-कश्मीर | ताजा पोस्ट | दिल्ली| नया इंडिया| Jammu Kashmir में जल्द चुनाव, PM मोदी ने कहा- लोकतंत्र को करना है मजबूत

Jammu Kashmir में चुनाव जल्द, तैयारियां शुरू! PM मोदी ने कहा- जम्मू-कश्मीर में लोकतंत्र को करना है मजबूत

Jammu Kashmir Elections

नई दिल्ली | Jammu Kashmir Elections : जम्मू-कश्मीर के मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) द्वारा आहूत सर्वदलीय बैठक के बाद चुनाव (PM Narendra Modi Meeting On Kashmir) की तैयारियां शुरू हो गई हैं। पीएम मोदी ने गुरूवार को बैठक के बाद कहा कि जम्मू-कश्मीर में परिसीमन की प्रक्रिया तेज गति से पूरी होनी है ताकि वहां विधानसभा चुनाव कराए जा सकें और एक निर्वाचित सरकार का गठन हो सके जो प्रदेश के विकास को मजबूती दे।

2022 से पहले हो सकते हैं चुनाव

ऐसे में माना जा रहा है कि सरकार, केंद्र शासित प्रदेश में लोकतांत्रिक प्रक्रिया शुरू करने के लिए चुनाव करा सकती है। हालांकि इसके लिए परिसीमन जल्द पूरा करना होगा। मीडिया रिपोर्ट की माने तो केंद्र सरकार 2022 पहले ही चुनाव करा सकती है। ऐसे में सरकार की ये कोशिश रहेगी की जल्द से जल्द परिसीमन का काम पूरा कर लिया जाए।

ये भी पढ़ें:- PM Modi Meeting On Kashmir : पीएम के बैठक में आमंत्रण नहीं मिलने से नाराज हैं कश्मीरी पंडितों के संगठन, जताया असंतोष

बैठक के बाद प्रधानमंत्री के कई ट्वीट

प्रधानमंत्री मोदी ने बैठक (PM Modi Meeting On Kashmir) के बाद कई ट्वीट किए और कहा कि विचार-विमर्श एक विकसित और प्रगतिशील जम्मू-कश्मीर की दिशा में चल रहे प्रयासों में एक महत्वपूर्ण कदम था। ‘हमारी प्राथमिकता जम्मू-कश्मीर में जमीनी स्तर पर लोकतंत्र को मजबूत करना है। परिसीमन तेज गति से होना है ताकि वहां चुनाव हो सकें।

 

 

ये भी पढ़ें:- CBSE के परिणामों के पहले शिक्षा मंत्री कल शाम 4 बजे आएंगे लाइव, छात्रों और अभिभावकों का संदेह करेंगे दूर : Education Minister Will be liveTomorrow

राजनीतिक दलों की मांग जल्द संपन्न हो जम्मू-कश्मीर चुनाव

प्रधानमंत्री Narendra Modi के साथ सर्वदलीय बैठक में अधिकतर राजनीतिक दलों ने Jammu Kashmir को पूर्ण राज्य का दर्जा बहाल करने और जल्द से जल्द विधानसभा का चुनाव संपन्न कराने की मांग उठाई। आपको बता दें कि जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 के अधिकांश प्रावधान हटाए जाने और राज्य को दो केंद्रशासित प्रदेशों में विभाजित करने के बाद प्रधानमंत्री मोदी की अध्यक्षता वाली यह पहली बैठक रही।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
भाजपा से निष्कासित पूर्व कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत और उनकी बहू आज थामेंगी कांग्रेस का हाथ
भाजपा से निष्कासित पूर्व कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत और उनकी बहू आज थामेंगी कांग्रेस का हाथ