Jharkhand news mandal dam मंडल डैम से हाथियों को सबसे ज्यादा फायदा
देश | झारखंड| नया इंडिया| Jharkhand news mandal dam मंडल डैम से हाथियों को सबसे ज्यादा फायदा

मंडल डैम से हाथियों को सबसे ज्यादा फायदा

Jharkhand news mandal dam

डालटनगंज। मंडल डैम (Mandal Dam) बनने से सबसे ज्यादा फायदा हाथियों (Elephants) को होगा क्योंकि उन्हें पानी वाले इलाके ज्यादा पंसद होते हैं और पानी के लिए उन्हें इधर—उधर भटकना भी नहीं होगा। Jharkhand news mandal dam

पलामू व्याघ्र आरक्ष (PTR) के उपनिदेशक एवं भारतीय वन सेवा के अधिकारी कुमार आशीष (Kumar Ashish, Deputy Director of Palamu Tiger Reserve) ने कहा कि मंडल डैम के पूर्ण होने से सबसे ज्यादा फायदा पीटीआर में निवास कर रहे हाथियों को होगा। आशीष ने कहा कि PTR में अभी तकरीबन 300 हाथी निवास करते हैं। मंडल डैम (Mandal Dam) के पूर्ण होने से हाथियों को पेयजल (drinking water) की समस्या से मुक्ति मिलेगी। हाथी ऐसे भी पानी वाले क्षेत्रों को ज्यादा पसंद करते हैं। उन्होंने कहा कि मंडल डैम के पूर्ण होने से प्रवासी पक्षी भी यहां भारी संख्या में पहुंचेंगे।

Jharkhand news mandal dam

Read also वैक्सीन का भेदभाव कैसे खत्म होगा?

मंडल डैम के आसपास 300 हाथी निवास करते हैं

कुमार आशीष ने बताया कि डैम का निर्माण जिस स्थान पर हो रहा है, वह हरा-भरा जंगली इलाका है। यहां हाथी बहुत आसानी से पानी के लिए पहुंचेंगे। इससे उनकी संख्या में भी वृद्धि होगी। उन्होंने कहा कि अन्य जगह जलाशय (Dam) या डैम शहरी आबादी के पास हैं। डैम इलाके में बांस भी भारी मात्रा में उपजते हैं। वन क्षेत्र में 205 प्रजातियों के पक्षी वास करते हैं। पलामू व्याघ्र आरक्ष में तकरीबन 35 चेक डैम हैं, लेकिन ये भी मई-जून के महीने में सूख जाते हैं। मंडल डैम निर्माण में वन विभाग एवं जल संसाधन विभाग (Forest Department and Water Resources Department) के साथ एकरारनामे में यह तय है कि मंडल डैम से पानी की आपूर्ति पीटीआर में पशु-पक्षियों के लिए की जायेगी।

Tags :

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
सरकारी शिक्षक शिक्षिकाओं को लग चुकी है लॉकडाउन की आदत
सरकारी शिक्षक शिक्षिकाओं को लग चुकी है लॉकडाउन की आदत