केजरीवाल ने करोल बाग में किया रोड शो

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को यहां करोल बाग इलाके में खुली जीप में सवार होकर रोड शो किया। मुख्यमंत्री का काफिला ज्यों-ज्यों आगे बढ़ा, लोगों की भीड़ बढ़ती गई। भीड़ ‘केजरीवाल जिंदाबाद, हमारा मुख्यमंत्री कैसा हो, केजरीवाल जैसा हो’ के नारे लगा रही थी। भीड़ के जोश से गदगद मुख्यमंत्री ने भी इस मौके पर जमकर अपनी सरकार की पीठ थपथपाई और दिल्ली के सबसे भीड़भाड़ वाले इलाकों में शुमार करोल बाग में रोड शो के जरिए लोगों से वोट मांगा।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का यह रोड शो शनिवार सुबह करोल बाग की तंग गलियों, व्यस्त बाजारों, कॉलोनी, मोहल्लों व मुख्य सड़क मार्गों से गुजरा। रोड शो में शामिल होने के लिए केजरीवाल के कई समर्थक बकायदा ढोल-बाजे के साथ यहां पहुंचे। केजरीवाल के इस रोड शो में कई निजी सिक्योरिटी गार्डस भी तैनात थे। रोड शो के दौरान केजरीवाल ने स्थानीय लोगों से कहा, हमने बड़ी मुश्किल से सरकारी स्कूल ठीक किए हैं, अब अगर आपने दूसरी पार्टियों को वोट दे दिया तो ये स्कूल फिर से खराब हो जाएंगे।

यह खहर भी पढ़ें:- केजरीवाल को 27 उम्मीदवारों से मिलेगी टक्कर

आप जिस पार्टी में हैं, उसी पार्टी में बने रहें, लेकिन वोट आम आदमी पार्टी को दें, ताकि हम दिल्ली के स्कूलों को और बेहतर बना सकें। इस दौरान कुछ लोग साइकिलों पर झाड़ू बांधकर रोड शो में शामिल हुए। मुख्यमंत्री केजरीवाल का यह रोड शो किसी भी एक स्थान पर ज्यादा देर नहीं रुका। हालांकि मुख्यमंत्री ने इस दौरान स्थानीय लोगों से छोटे-छोटे संवाद जरूर स्थापित किए। अधिकांश स्थानों पर उन्होंने लोगों से दिल्ली सरकार के स्कूलों और अस्पतालों पर उनकी राय पूछी।

इस दौरान आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता जोश के साथ तालियां और सीटी बजा रहे थे। केजरीवाल ने अपना पहला चुनाव अभियान नीली वैगनआर कार से चलाया था। मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद वह रामलीला मैदान से उसी नीली वैगनआर से दिल्ली सचिवालय पहुंचे थे और पहली बार दिल्ली के मुख्यमंत्री का कार्यभार संभाला था।

उन्होंने सुरक्षा तक लेने से इंकार कर दिया था। लेकिन अब स्थिति बदल चुकी है। केजरीवाल रोड शो के दौरान खुली जीप में सवार थे, और उनकी सुरक्षा के चुस्त इंतजाम भी थे। वर्दी के साथ ही सादे कपड़ों में करीब दो दर्जन पुलिसकर्मियों का सुरक्षा घेरा मुख्यमंत्री की जीप के आसपास लगातार मौजूद रहा। कोई सिरफिरा मुख्यमंत्री से बदसलूकी न कर जाए, इसके लिए बकायदा उनकी जीप पर भी सुरक्षाकर्मी तैनात थे। पिछले दिल्ली विधानसभा चुनाव के दौरान एक रोड शो में ही खुली जीप पर सवार केजरीवाल पर हमला हुआ था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares