nayaindia Tej Pratap UP Police : नाराज हुए लालू के लाल तेजप्रताप ...
देश | उत्तर प्रदेश | ताजा पोस्ट | बिहार| नया इंडिया| Tej Pratap UP Police : नाराज हुए लालू के लाल तेजप्रताप ...

यूपी पुलिस ने कार से परिक्रमा की नहीं दी इजाजत तो नाराज हुए लालू के लाल तेजप्रताप …

Tej Pratap UP Police
Image Source : Social Media

मथुरा | Tej Pratap UP Police : बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप अक्सर किसी ना किसी कारण को लेकर चर्चा में रहते हैं. एक बार फिर से तेजप्रताप खबरों में आ गए हैं. जानकारी के अनुसार तेज प्रताप यादव को बुधवार को अधिकारियों ने गिरिराज महाराज मंदिर की परिक्रमा करने की इजाजत नहीं दी. इसके पीछे का कारण ये था कि लालू के लाल ये परिक्रमा अपनी कार में बैठ कर करना चाहते थे. वे बिहार के पूर्व कैबिनेट मंत्री मंगलवार को अपने पिता की अच्छी सेहत की कामना लेकर गोवर्धन पहुंचे थे. वह कार से ही सप्तकोसीय परिक्रमा लगाना चाहते थे लेकिन अनुमति न मिलने पर उन्हें लौटना पड़ा.

भारी भीड़ के कारण नहीं मिली अनुमति

Tej Pratap UP Police : तेजप्रताप को अधिकारियों ने मुड़िया पूर्णिमा के चलते भारी भीड़ का हवाला देते हुए यादव के कार में परिसर में प्रवेश करने और परिक्रमा करने के अनुरोध को अस्वीकार कर दिया. पुलिस सूत्रों के अनुसार मथुरा व वृंदावन में जब तेज प्रताप पहुंचे तो भीड़ काफी बढ़ गई थी. इसलिए तेजप्रताप को कार से परिक्रमा करने की इजाजत नहीं दी गई. तेजप्रताप ने बताया कि उनकी कार को एक बैरियर पर रोका गया और वहां तैनात पुलिस कर्मियों ने यादव को सूचित किया कि वाहनों का प्रवेश सख्त वर्जित है.

इसे भी पढें- भारत में ‘पुलिस राज’ कब खत्म होगा?

नराज होकर सोशल मीडिया में किया पोस्ट

Tej Pratap UP Police : तेज प्रताप यूपी पुलिस की इस कार्रवाई को लेकर खासे नाराज हो गए. इसके बाद उन्होंने सोशल मीडिया पर एक वीडियो अपलोड कर कहा कि उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा उन्हें रोका जा रहा है. बाद में वह गाड़ी के साथ प्रवेश के लिये औपचारिक अनुमति लेने पास के एक पुलिस थाने पहुंचे लेकिन थानाध्यक्ष ने उनके इस अनुरोध को ठुकरा दिया. गोवर्धन के पुलिस उपाधीक्षक गौरव त्रिपाठी ने बताया कि मुड़िया पूर्णिमा पर भारी भीड़ के मद्देनजर गिरिराज महाराज की परिक्रमा लगाना तो क्या, शहर में ही गाड़ी प्रवेश करने पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा हुआ है. ऐसे में उन्हें कैसे अनुमति दे जा सकती है.

इसे भी पढें- हाईकोर्ट ने कंपनियों से पूछा, जनता से कितना वाटर टैक्स वसूला?

Leave a comment

Your email address will not be published.

twelve − two =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
डिस्कॉम का बकाया घटकर 713 करोड़ रह गया
डिस्कॉम का बकाया घटकर 713 करोड़ रह गया