बुलाती है लेकिन जाने का नहीं ... सड़क पर मदद की गुहार लगाने के बाद साथियों के साथ मिलकर करती थी लूटपाट - Naya India
देश | दिल्ली| नया इंडिया|

बुलाती है लेकिन जाने का नहीं … सड़क पर मदद की गुहार लगाने के बाद साथियों के साथ मिलकर करती थी लूटपाट

नई दिल्ली | देश की राजधानी दिल्ली में एक महिला समेत एक गिरोह का भंडाफोड़ हुआ है. पुलिस के जांच में ये बात भी सामने आई है कि अबतक आरोपी महिला ने अपने साथियों के साथ मिलकर 20 से ज्यादा लोगों के साथ लूटपाट की थी. पुलिस ऩे महिला के साथ ही उसके दो साथियों को भी गिरफ्तार किया है. बताया जा रहा है कि यह शातिर महिला सड़क पर अकेले चल रहे युवकों को अपना शिकार बनाया करती थी औऱ इस काम में वो पिछले सालभर से लगी हुई थी. पुलिस फिलहाल इनसे कड़ी पूछताछ कर रही है. इन सबने मिलकर अंतिम लूटपाट दिल्ली के मालवीय नगर में रहने वाले व्यक्ति के साथ की थी जो दिनभर की कमाई के बाद अपने घर लौट रहा था.

दोस्त के एक्सीडेंट का बनाती थी बहाना

पुलिस की पूछताछ में पता चला है हर बार की लूटपाट के लिए ये अलग-अलग बहाने बनाते थे. लेकिन इसमें भी लगभग हर बार महिला के किसी अनजान अकेले व्यक्ति के चुनाव करती थी जिसके पास पैसों के होने की उम्मीद होती थी. इसके बाद 2-3 दिन इस महिला के साथी उस व्यक्ति की पीछा करते थे और फिर एक दिन महिला उसके पास जाकर दोस्त के एक्सीडेंट होने का बहाना बनाकर उसे अपने साख ले जाती .  महिला इसी कोशिश में होती थी कि किसी तरह उसका शिकार उनके साथ जाने के लिए तैयार हो जाए.

इसे भी पढें- सरकार ने पैन कार्ड को आधार कार्ड से लिंक करने की तिथी बढ़ाकर 30 जून तक की, मोटे जुर्माने से बचने के लिए इस तरह करें अपना पैन-आधार लिंक

सुनसान सड़क पर पहले से तैयार रहते थे साथी

सुनसान सड़क पर उसके साथ पहले से तैयार रहते थे. जैसा ही महिला साथी वहां पहुंचती तो तीनों मिलकर लूटपाट को अंजाम दे देते थे. इन सबके लिए वे पहले तो अपने शिकार के साथ मारपीट कर उसे कमजोर करते उसके बाद उसके पास से पैसे और मोबाईल के साथ अन्य सामान लेकर वहां से भाग जाते थे. पुलिस की जांच में सामने आया है कि महिला के साथियों का आपराधिक इतिहास रहा है और उनपर दिल्ली में ही दूसरे मामले भी दर्ज हैं.

इसे भी पढें- निकाह पढ़ने के दौरान उर्दू बोलने में लड़खड़ा गई जुबान… फिर पता चला दुल्हा तो मुस्लिम है ही नहीं !

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *