योगी सरकार ने पंचायत चुनाव में जान गंवाने वालों के लिए खोला खजाना, मिलेंगे 30-30 लाख - Naya India
देश | उत्तर प्रदेश | ताजा पोस्ट| नया इंडिया|

योगी सरकार ने पंचायत चुनाव में जान गंवाने वालों के लिए खोला खजाना, मिलेंगे 30-30 लाख

लखनऊ | पंचायत चुनाव के दौरान जान गवाने वाले शिक्षकों को लेकर उत्तर प्रदेश की सरकार लगातार विवादों में थी. अब योगी आदित्यनाथ में एक बड़ा फैसला लेते हुए सभी मृतक शिक्षकों और सरकारी कर्मियों के आश्रितों को 30 लाख रूपए देने का निर्णय लिया है. हालांकि योगी सरकार ने चुनाव आयोग की गाइडलाइन में बदलाव करते हुए पंचायत चुनाव की अवधि को 30 दिन ही माना है. बता दें कि पंचायत चुनाव में जान गवाने वाले शिक्षकों की संख्या अच्छी खासी थी. उत्तर प्रदेश के शिक्षक संघ ने कोर्ट में भी याचिका दायर की थी जिसके बाद से योगी सरकार पर लगातार दबाव बढ़ता जा रहा था.

सरकार तैयार करेगी डाटा

कोरोना के दौरान ड्यूटी पर लगे शिक्षकों की मौत के बाद योगी आदित्यनाथ के इस फैसले की जमकर सराहना हो रही है. जानकारी के अनुसार उत्तर प्रदेश की सरकार पंचायत चुनाव में ड्यूटी करने वाले वैसे शिक्षकों का जोरा तैयार कर रही है जिनकी मौत इन 30 दिनों की अवधि में हुई या फिर वे 30 दिनों की अवधि में कोरोना से संक्रमित हुए. पूरे मामले पर योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि उत्तर प्रदेश की सरकार किसी को भी निराश करने वाली नहीं है और आने वाले समय में अमित शिक्षकों के आश्रितों को ₹30 लाख दिए जाएंगे.

इसे भी पढ़ें-5G टेक्नोलॉजी के खिलाफ कोर्ट पहुंची एक्ट्रेस जूही चावला,कहा- हानिकारक प्रभावों पर भी होनी चाहिए थी चर्चा

रिपोर्ट निगेटिव आने वालों को भी मिलेगी मदद

उत्तर प्रदेश सरकार ने कहा है कि पंचायत चुनाव के दौरान ड्यूटी पर लगाए गए सभी शिक्षकों का डाटा उनके पास सुरक्षित है. सरकार की ओर से कहा गया है कि इन 30 दिनों की अवधि में कोरोना संक्रमित होने के बाद हुए मौतों का सरकार आकलन कर रही है ऐसे लोगों के परिवार वालों को आर्थिक मदद की जाएगी. योगी सरकार ने स्पष्ट किया कि अगर रिपोर्ट के नेगेटिव आने के बाद भी 30 दिनों के अंदर किसी शिक्षक की मौत हुई हो तो उन्हें भी अनुग्रह की राशि दी जाएगी.

इसे भी पढ़ें- SC के सवाल पर केंद्र सरकार का दावा- 2021 तक व्यस्कों को लग जाएगी वैक्सीन

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

});