nayaindia Uma Bharti On Prohibition : अब सीएम शिवराज मुझसे बात नहीं करते ...
देश | मध्य प्रदेश| नया इंडिया| Uma Bharti On Prohibition : अब सीएम शिवराज मुझसे बात नहीं करते ...

Madhya Pradesh : उमा भारती बोलीं- शराबबंदी पर अब सीएम शिवराज मुझसे बात नहीं करते …

Uma Bharti On Prohibition :
Image Source : Social Media

भोपाल | Uma Bharti On Prohibition : भारतीय जनता पार्टी में उमा भारती काफी समय से पार्टी की सेवा कर रही हैं,. उनकी नाम पार्टी के बड़े चेहरों में गिना जाता है. मध्य प्रदेश में वे लगातार शराबबंदी के लिए अपनी आवाज बुलंद करती रही हैं. हालांकि अबतक उन्हें इस संबंध में सफलता नहीं मिली है. अब उन्होंने इस मुद्दे पर ताजा बड़ा बयान दिया है. उमा भारती ने कहा है कि सीएम शिवराज सिंह चौहान अब उनसे इस मुद्दे पर बातचीत नहीं कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि ‘मुख्यमंत्री ने पिछले दो साल के दौरान हर मुलाकात में मुझसे शराबबंदी पर बात की है, लेकिन जब बात सामने आ गई, तो उन्होंने मुझसे बातचीत करना बंद कर दिया है.

लगातार उठाती रही हैं शराबबंदी की मांग

Uma Bharti On Prohibition : बता दें कि लंबे समय से उमा सिलसिलेवार तरीके से अपनी मांग पर अडिग हैं. उन्होंने इस संबंध में कई ट्वीट किए हैं जहां उन्होंने मांग उठायी कि प्रदेश में अहातों में शराब परोसने की व्यवस्था तुरंत बंद की जाए. इसके साथ ही स्कूल, अस्पताल, मंदिर एवं अन्य निषिद्ध स्थानों के पास भी शराब की दुकानें बंद हों. उन्होंने मांग की है कि प्रदेश में घर-घर शराब पहुंचाने की व्यवस्था पर तुरंत रोक लगे. चौहान को अपना बड़ा भाई बताते हुए उमा भारती ने कहा कि उनके साथ वर्ष 1984 से मार्च 2022 तक सम्मान एवं स्नेह के संबंध बने रहे. उन्होंने कहा कि वह अपने कार्यालय जाते समय या मेरे हिमालय प्रवास के समय या मेरे किसी भजन का स्मरण आने पर या तो मुझसे मिलते थे या फोन करते थे.

इसे भी पढें- Uttarakhand : 80 साल की बुजुर्ग महिला राहुल गांधी से हुई प्रभावित, पूरी संपत्ति कर दी नाम…

ट्वीट कर रखी अपनी बात

Uma Bharti On Prohibition : उमा भारती ने अपने ट्वीट में लिखा कि मैंने शिवराज (सिंह चौहान) जी से दो साल में हर मुलाकात में शराबबंदी पर बात की है, अब बात बाहर सामने आ गई है तो भाई ने अनबोला (आपस में बातचीत बंद) क्यों कर दिया है और मीडिया के माध्यम से बात क्यों करने लगे हैं. उन्होंने कहा कि शिवराज ने परसो कहा है कि लोग शराब पीना बंद कर दें तो मैं प्रदेश में शराब की दुकानें बंद कर दूंगा.जब लोग शराब पिएंगे ही नहीं, दुकानें चलेंगी ही नहीं तो वह तो खुद ही बंद हो जाएंगी. उमा ने कहा कि अवैध शराब की बिक्री रोकना पुलिस एवं प्रशासन की जिम्मेदारी है और यह कानून-व्यवस्था का सवाल है.

इसे भी पढें- Oscar औऱ Grammy Awards के ‘इन मेमोरियम’ खंड में लता दीदी और बप्पी दा का नाम नहीं आने से प्रशंसक नाराज…

Leave a comment

Your email address will not be published.

1 + 18 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
नगरीय निकाय चुनाव: छोटे चुनाव में भी दिग्गज दिखाएंगे दम
नगरीय निकाय चुनाव: छोटे चुनाव में भी दिग्गज दिखाएंगे दम