nayaindia Efforts to woo youth intensified in MP मप्र में युवाओं को रिझाने की कोशिशें तेज
देश | मध्य प्रदेश| नया इंडिया| Efforts to woo youth intensified in MP मप्र में युवाओं को रिझाने की कोशिशें तेज

मप्र में युवाओं को रिझाने की कोशिशें तेज

भोपाल। मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में विधानसभा चुनाव (Assembly Election) से पहले युवाओं को रेाजगार के जरिए रिझाने की कोशिशें तेज हो गई है। सरकार आगामी आठ माह में एक लाख से ज्यादा युवाओं को नौकरी देने की तैयारी में है। राज्य सरकार लगातार युवाओं को रोजगार के बेहतर अवसर मुहैया कराने के लिए आवश्यक कदम उठाने का दावा करती आ रही है। एक लाख से ज्यादा युवाओं को रोजगार देने का सरकार ने लक्ष्य तय किया है। बताया गया है कि 15 अगस्त से प्रारंभ हुए रिक्त पदों की पूर्ति के अभियान की कार्यवाही निरंतर 12 माह तक चलेगी। प्रदेश में एक लाख 12 हजार 724 सरकारी रिक्त पदों को भरने के लिए प्रक्रिया प्रारंभ की गई है। नवंबर माह में तेजी से कार्य हुआ है।

लगभग 60 हजार पदों को भरने के लिए आवश्यक प्रक्रिया का पालन किया जा रहा है। सभी विभाग इस कार्य में सक्रिय हैं। बताया गया है कि प्रथम श्रेणी के 1,271, द्वितीय श्रेणी के 20 हजार 728, तृतीय श्रेणी के 82 हजार 879 और चतुर्थ श्रेणी के 9091 पद रिक्त हैं। इन पदों की पूर्ति के लिए वित्त विभाग (Finance Department) से अनुमति के बाद आवश्यक कार्यवाही की जा रही है। गत 15 अगस्त से 31 अक्टूबर तक 36 हजार 235 पद विज्ञापित किए गए हैं। नवम्बर माह में 3 हजार 926 पद विज्ञापित किए गए हैं। इस माह के अंत तक करीब 19 हजार पद विज्ञापित होंगे। आठ विभागों में 1595 नियुक्तियां गत तीन माह में कर दी गई हैं। बीती तिमाही में जनजातीय कार्य विभाग में 722 और स्वास्थ्य विभाग में 852 नियुक्तियां की गई हैं।

स्कूल शिक्षा विभाग में 15 हजार 196 और जनजातीय कार्य विभाग में 15 हजार 618 पद विज्ञापित हुए हैं। सभी विभाग में लगातार नियुक्तियां हो रही हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने कहा है कि युवाओं को रोजगार आज की सबसे बड़ी जरूरत है। रोजगार सरकारी क्षेत्र में हो या निजी क्षेत्र में, योग्यतानुसार कार्य मिल जाए, यह बहुत आवश्यक है। सेवाओं में आने से युवाओं में स्वाभाविक रूप से उत्साह का संचार होता है। पर्याप्त अमले से संस्थानों और विभागों की कार्य-प्रणाली भी सहज और आसान होती है।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि शासकीय विभागों में अकेले गृह विभाग में ही छह हजार आरक्षक पदों पर नियुक्ति देने की पहल हुई है। प्रयास यह है कि किसी एक दिन सभी को समारोह पूर्वक नियुक्ति-पत्र प्रदान किए जाएं। सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा विभागों के पदों को भरने की कार्रवाई के साथ ही राज्य के सार्वजनिक उपक्रमों में भी पदों की पूर्ति के लिए कार्यवाही की जा रही है। उपस्थित मंत्रीगण ने रोजगार और स्व-रोजगार क्षेत्र में हो रहे कार्य को महत्वपूर्ण बताया। (आईएएनएस)

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

15 − 2 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
राहुल से शास्त्रार्थ की चुनौती को शिवराज के मंत्री ने स्वीकारा
राहुल से शास्त्रार्थ की चुनौती को शिवराज के मंत्री ने स्वीकारा