nayaindia corona-sample
देश | मध्य प्रदेश| नया इंडिया| corona-sample

Corona crisis: माली ले रहा कोरोना के सैंपल, पूछने पर मिला ये जवाब

corona-sample

मध्यप्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर प्रभुराम चौधरी कोरोना काल में चुनाव-प्रचार में व्यस्त है. उनकी गैर-हाजरी में लापरवाही के मामले सामने आ रही है. मध्यप्रदेश में एक दिन में करीब छः हजार मामले मिल रहे हैँ. मध्यप्रदेश में एक बार फिर लापरवाही का मामला सामने आयी है.  मध्यप्रदेश के सांची अस्पताल में एक माली द्वारा कोविड-19 के सैंपल एकत्र किया जा रहा है. डॉ चौधरी ज्योतिरादित्य सिंधिया के करीबी माने जाते हैं. कमलनाथ सरकार गिरने से पहले वह बीजेपी में शामिल हो गए थे. रविवार को दमोह में उन्हें कई जगहों पर महिला सम्मेलनों में संबोधन करते हुए देखा गया था. ( corona-sample)

इसे भी पढ़ें Corona: इंदौर में मरीज को बिस्तर नहीं मिलने पर परिजनों ने किया हंगामा, अस्पताल में की तोड़-फोड़

माली को इस कार्य की ट्रनिंग दी गई

माली से पूछने पर जवाब मिला कि अस्पताल के अधिकतर कर्मचारी कोरोना संक्रमित हैं. माली अस्पताल का स्थायी कर्मचारी भी नहीं है. वहीं अस्पताल के BMO इनचार्ज राजश्री तिड़के ने इसका बचाव करते हुए कहा कि माली को सैंपल लेने की ट्रेनिंग दी गई है. उन्होंने कहा कि हम क्या कर सकते हैं…. अस्पताल का ज्यादातर स्टाफ इस खतरनाक वायरस के संक्रमण की चपेट में है. आपातकाल स्थितियों के लिए हमें दूसरे स्टाफ को ट्रेनिंग देनी पड़ी जिसमें माली भी शामिल है.

विपक्ष नेता सयैद जफर ने साधा निशाना

कोई भी मामला हो विपक्ष बयान देने से नहीं चूंकता.  इसी क्रम में कांग्रेस नेता सयैद जफर ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि मैं किसी ऐसे शख्स की तलाश कर रहा हूं जो मुझे बता सके कि राज्य के स्वास्थ्य मंत्री ने पिछले 8 दिनों में किसी भी मेडिकल कॉलेज का दौरा किया हो या फिर समीक्षा बैठक की हो. अगर कोई बता सकता है तो मैं उसे 11 हजार एक रुपये का इनाम दूंगा.

मध्यप्रदेश में भी कोरोना से खराब हालत ( corona-sample)

बता दें कि सोमवार को मध्य प्रदेश में अब तक के सर्वाधिक 6,489 नए मामले सामने आए हैं. राज्य में अब तक 3,01,0762 मरीज स्वस्थ हो गये हैं और 38,651 मरीजों का इलाज विभिन्न अस्पतालों में चल रहा है. मध्यप्रदेश में भी कोरोना की स्थिति खासी अच्छी नहीं है. कोरोना के मामले बढ़ते ही जा रहे है. ऐसे में राज्य सरकार ने भी सख्ती बरती है। मध्यप्रदेश में कोविड-19 के बढ़ते हुए केस को देखकर सरकार ने नाइटकर्फ्यू का ऐलान किया है। सरकार ने सभी को मास्क पहनने की सलाह दी है.( corona-sample)

इसे भी पढ़ें राजस्थान में कोरोना आउट ऑफ कंट्रोल! 24 घंटे में सामने आए 5771 नए मामले, यहां फूटा कोरोना बम

Leave a comment

Your email address will not be published.

3 × 2 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
भाजपा गुटबाजी के कारण बिखरी
भाजपा गुटबाजी के कारण बिखरी