Corona: इंदौर में मरीज को बिस्तर नहीं मिलने पर परिजनों ने किया हंगामा, अस्पताल में की तोड़-फोड़ - Naya India
देश | मध्य प्रदेश| नया इंडिया|

Corona: इंदौर में मरीज को बिस्तर नहीं मिलने पर परिजनों ने किया हंगामा, अस्पताल में की तोड़-फोड़

इंदौर। कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच मध्यप्रदेश के इंदौर Indore में कोरोना के मरीज को बिस्तर नहीं मिलने पर आक्रोशित उसके परिजनों ने यहां सोमवार देर रात एक निजी अस्पताल (Private Hospital) में जमकर हंगामा किया और तोड़-फोड़ की। चश्मदीदों ने बताया कि यह घटना पलासिया क्षेत्र के ग्रेटर कैलाश हॉस्पिटल में सामने आई।

अस्पताल (Hospital) के संचालक अनिल बंडी (Anil Bundy) ने आज बताया, हमारे स्टाफ ने मरीज के परिजनों से कहा कि बिस्तर (Bed) खाली नहीं होने के चलते हम फिलहाल उसे भर्ती नहीं कर सकते। इस बात पर मरीज के परिजनों ने हमारे स्टाफ से विवाद करते हुए मेज की वे पारदर्शी शीट तोड़ दीं जो कोविड-19 (Covid-19) से बचाव के लिए लगाई गई थीं।

इसे भी पढ़ें – चैत्र नवरात्र 2021: मां दुर्गा का प्रथम स्वरूप भगवान शंकर की अर्द्धांगिनी क्यों कहलाती है शैलपुत्री

उन्होंने बताया कि ग्रेटर कैलाश हॉस्पिटल (Greater Kailash Hospital) में कोरोना के मरीजों के लिए कुल 90 बिस्तर हैं जो पहले ही भर चुके हैं। बिस्तर (Bed) नहीं मिलने पर मरीज के परिजनों ने जिस ग्रेटर कैलाश हॉस्पिटल (Greater Kailash Hospital) में तोड़-फोड़ की, वह पलासिया पुलिस थाने से चंद कदमों की दूरी पर है।

थाने के प्रभारी संजय बैस ने बताया कि तोड़-फोड़ की घटना को लेकर अस्पताल प्रबंधन की ओर से फिलहाल कोई प्राथमिकी नहीं दर्ज कराई गई है। उन्होंने बताया कि उस मरीज की पहचान नहीं हो सकी है जिसके परिजनों ने इस घटना को अंजाम दिया।

इसे भी पढ़ें – सोनिया गांधी की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मांग: Corona की दवाओं को GST से रखा जाए बाहर

बहरहाल, यह घटना बानगी भर है कि सूबे में कोविड-19 (Covid-19) से सबसे ज्यादा प्रभावित इंदौर में संक्रमितों को अस्पतालों में एक अदद बिस्तर हासिल करने में किस कदर मुश्किलें पेश आ रही हैं, जबकि महामारी की दूसरी लहर लगातार जोर पकड़ रही है।

स्वास्थ्य विभाग के नियमित बुलेटिन में बताया गया कि पिछले 24 घंटे के दौरान इंदौर जिले में संक्रमण (Infection) के 1,552 नये मामले सामने आए जो दैनिक स्तर पर अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है। यहां संक्रमण की दर 18 फीसदी है। बुलेटिन के मुताबिक पिछले 24 घंटे के दौरान जिले में छह मरीजों ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।

इसे भी पढ़ें – कोरोना से हाहाकार! 24 घंटे में 1.60 लाख नए केस, 880 लोग कोरोना का शिकार, अब यहां संपूर्ण लॉकडाउन के आसार

सरकारी आंकड़ों के मुताबिक करीब 35 लाख की आबादी वाले जिले में 24 मार्च 2020 से लेकर अब तक कोरोना वायरस संक्रमण (Corona Virus Infection) के कुल 80,986 मामले सामने आए हैं। इनमें से 1,011 लोगों की इलाज के दौरान मौत हो चुकी है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
सेरी-ए : एसी मिलान और जुवेंतस को मिली जीत
सेरी-ए : एसी मिलान और जुवेंतस को मिली जीत