MP News : Corona मरीजों का परिजन कर रहे इलाज, कलेक्टर ने दी एफआईआर की चेतावनी

Must Read

छतरपुर | कोरोना को लेकर देश में हलचल मची हुई है कोरोना (Corona) सभी राज्यों में अपने पैर पसार चुका है मध्य प्रदेश में कोरोना महामारी को लेकर एक मामला सामने आया है मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के छतरपुर (Chhatarpur) जिले में कोरोना (Corona) के मरीजों के परिजन (Corona patients family) ही इलाज (treatment) की जिम्मेदारी संभाले हुए हैं, यह स्थिति जिला प्रशासन के लिए मुसीबत का सबब बन गई है।

जिलाधिकारी शीलेंद्र सिंह ने चेतावनी दी है कि जो लोग ऐसा कर रहे हैं, उनके खिलाफ पुलिस में प्राथमिकी दर्ज (FIR) की जाएगी। कलेक्टर छतरपुर शीलेन्द्र सिंह (Collector Chhatarpur Shelendra Singh) ने जिला चिकित्सालय में भर्ती कोविड संक्रमितों के परिजनों से अपील की है कि आइसोलेशन एवं कोविड वार्ड में भर्ती मरीज के परिजन नहीं जाएं और खुद भी संक्रमित होने से बचें तथा दूसरों को भी संक्रमित होने से बचाएं।

इसे भी पढ़ें – Lockdown in delhi : दिल्ली में लॉकडाउन बढ़ेगा या खत्म होगा? आज लिया जा सकता है फैसला

कोविड और आइसोलेशन वार्ड का आलम यह है कि मरीज (Patients) के परिजन जबरदस्ती किसी दूसरे संक्रमित मरीज की ऑक्सीजन (Oxygen) की नली निकाल लेते हैं और अपने अपने का इलाज करने लगते हैं। ऐसे लोगों पर प्रशासन निगरानी रख रहा है। मरीज के स्वस्थ होने पर सभी लोगों के खिलाफ एफआईआर (FIR) की कार्यवाही की जाएगी।

इसे भी पढ़ें – Corona Epidemic : Oxygen नहीं मिली तो पति को मुंह से सांस देती रही महिला, फिर भी नहीं बचा जा सकी जान

प्रशासन ने कोविड एवं आइसोलेशन वार्डो में बार-बार आने-जाने वाले मरीजों के परिजनों को सचेत किया है कि चिकित्सालय के उपचार के किसी भी संसाधन से छेड़छाड़ नहीं करें और खुद से अपने मरीज का इलाज भी नहीं करें।

कोविड संक्रमित वार्ड में भर्ती दूसरे मरीज भी परिजनों के आने-जाने और उपस्थित रहने से बेवजह परेशान तो होते ही हैं और इससे कोविड गाइडलाइन का उल्लंघन भी होता है और कोविड संक्रमण फैलने का खतरा भी बढ़ जाता है। इसीलिए परिजन, वार्ड में भर्ती दूसरे मरीज की परेशानी का कारण न बनें।

इसे भी पढ़ें – Covishield Price : गैरो पे करम अपनों पे सितम..भारत में बनी कोविशील्ड भारत में ही सबसे महंगी

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

साभार - ऐसे भी जानें सत्य

Latest News

Delhi में भयंकर आग से Rohingya शरणार्थियों की 53 झोपड़ियां जलकर खाक, जान बचाने इधर-उधर भागे लोग

नई दिल्ली | दिल्ली में आग (Fire in Delhi) लगने की बड़ी घटना सामने आई है। दक्षिणपूर्व दिल्ली के...

More Articles Like This